एड्स रोकथाम के लिए किसी  ने किया अनोखा काम, दान किए एक लाख कंडोम उसके बाद जो बवाल हुआ..

हमारे देश में वेश्यावृत्ति के आंकडे चौकाने वाले हैं। सरकार की तमाम कोशिशों के बाद भी यह आंकड़े रूकने का नाम नहीं ले रहे है। हालांकि पिछले पांच सालों से सरकार के प्रयास से वेश्यावृत्ति के ग्राफ को कम किया गया है। लेकिन अभी भी हाइवे किनारे बसने वाले गांवों में बड़े स्तर पर वेश्यावृत्ति होती है। इसे गंदे काम से जुडे लोगों को दोबारा से नई जिंगदी की शुरूआत करने के लिए सरकार के प्रयास लगातार जारी हैं।

लेकिन फिर भी गरीबी, अशिक्षा, व बच्चों की तस्करी के चलते देश के कई इलाकों में यह कारोबार चल रहा है। जिसकी वजह से हमारे देश मे एड्स जैसी खतरनाक बिमारी बहुत तेजी से पैर पसारते हुए जा रही है। इसी की रोकथाम के लिए दिल्ली के रेड लाइट एरिया जीबी रोड पर एक एनजीओ ने दिल्ली राज्य एड्स नियंत्रण सोसाइटी (DSACS) और राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (नाको) को 1 लाख कंडोम दान किए हैं।

एड्स हेल्थकेयर फाउंडेशन इंडिया केयर्स के कंट्री प्रोग्राम मैनेजर डॉक्टर नचिकेता महंती ने कहा कि कंडोम की आपूर्ति नहीं होने से महिलाएं परेशान थी। अब कंडोम दिए जाने के बाद से महिलाओं ने बिना कंडोम के ग्राहकों को ना कहना सीखा है।

उन्होंने कहा की हमारे देश में इस स्थिति से निपटने के लिए समाज व महिला संगठनों को ऐसे लोगों की मदद करनी चाहिए। जिनके संपर्क में आने एड्स संक्रमण का खतरा बना रहता हैं। संगठन की ब्यूरो चीफ ऑफ इंडिया डॉक्टर डी एस रत्ना देवी का कहना है कि हमारे देश में लोगों तक कंडोम की पहुंच बहुत कम हैं। हमें इस प्रयास को और बढ़ाना चाहिए।
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button