चोरी करने के बाद लगा दी एटीएम में आग

एसबीआइ में लगी आग का खुलासा हो गया है। दरअसल, सुरक्षा एजेंसी के कर्मचारियों ने ही आग लगाई थी। एटीएम में 55 लाख डालने थे, लेकिन उन्होंने 31 लाख ही डाले थे।
55 लाख लेकर चले थे, एटीएम में डाले 31 लाख मामला छिपाने को लगा दी आग

जेएनएन, रोहतक। शहर के गांधीनगर इलाके में एसबीआइ की ऑटो टेलर मशीन (एटीएम) को फूंकने वाले एटीएम की सुरक्षा एजेंसी के कर्मचारी ही थे। इन कर्मचारियों को एक दिन पहले 55 रुपये दिए गए थे, लेकिन उन्होंने केवल 31 लाख ही रुपये डाले। राज न खुले इसलिए आरोपी कर्मचारियों ने देर रात एटीएम में आग लगा दी। मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

इस संबंध में पीजीआइ थाने के एसएचओ मंजीत सिंह और गांधी कैंप चौकी के इंचार्ज बिजेंद्र सिंह ने बताया कि जो लोग गिरफ्तार किए गए हैं, उनमें दो सुखविंद्र व जयवीर मोखरा गांव के और बलराज चुलियाना गांव का रहने वाला है। चौथे का नाम अरुण है उसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल सकी है।

चारों ने बुधवार रात करीब डेढ़ बजे एटीएम पर तैनात गार्ड बिट्टू को बंधक बनाकर एटीएम पर केमिकल डालकर आग लगा दी थी। वे जाते समय गार्ड का सेलफोन भी ले गए थे। एटीएम में पैसा डालने वाली एजेंसी एएसजी ट्रांजेक्ट टेक्नोलॉजी लिमिटेड के समन्वयक नीरज कुमार की शिकायत पर घटना की एफआइआर दर्ज की गई थी।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button