एक बार फिर राहुल गांधी पर बरसीं स्मृति ईरानी, देखिए क्या कहा…

Rahul_SMriti_380नई दिल्ली। एचआरडी मिनिस्टर स्मृति र्इरानी अपने एक बेबाक तेवर के लिए जानी जाती हैं। वह अक्सर किसी न किसी विवाद या बहस का हिस्स होती हैं। बीते दिनों ट्विटर पर उनका और कंग्रेस नेता प्रियंका चतुर्वेदी का काफी झगड़ा हुआ जो कि पूरे सोशल मीडिया पर छाया हुआ था। अब एक बार फिर स्मृति ईरानी सुर्खियों में हैं। स्मृति का कहना है कि राहुल गांधी का संसदीय रेकॉर्ड ही यह बता देता है कि वह कितने अप्रभावी नेता हैं। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने ये बात कही।

स्मृति ईरानी ने कहा, मुझे किसी की देशभक्ति को सर्टिफिकेट नहीं देना

स्मृति ईरानी ने कहा कि ‘राष्ट्रवाद पर बहस’ ने उन्हें यह सोचने पर मजबूर कर दिया कि किसी भारतीय को क्यों इस बारे में सफाई देनी चाहिए कि उसे देशभक्ति का अहसास है। उन्होंने कहा कि मुझे किसी की देशभक्ति को सर्टिफिकेट नहीं देना है और न ही किसी से अपनी देशभक्ति के लिए सर्टिफिकेट लेना है। ईरानी ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रवाद पर संसद में बड़ी बहस के लिए तैयारी नहीं की थी और इस चर्चा में उनका दखल रोहिल वेमुला जैसे दुखद मामले में विपक्ष की तरफ से राजनीतिक किए जाने से प्रेरित था। पॉलिसी लेवल पर उठाए गए कदमों का जिक्र करते हुए ईरानी ने कहा कि उन्हें पिछली यूपीए सरकार की तरफ से किए गए ‘नुकसान’ को संभालने में काफी वक्त खर्च करना पड़ा।

ट्विटर पर छिड़ी थी जंग

बीते दिनों स्मृति ने ट्विटर पर राहुल गांधी पर तंज कसते हुए एक ट्वीट किया था जिसके बाद कांग्रेस नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने भी इसका जवाब दिया था। प्रियंका ने एक ट्वीट में स्मृति की सिक्युरिटी का मुद्दा उठाया था। दोनों के बीच इस लड़ाई में एक के बाद 7 ट्वीट किए गए थे। एक टवीट में, प्रियंका ने किसी दूसरे व्यक्ति से बात करते हुए स्मति का जिक्र किया था और कहा था, स्मृति ईरानी की जिंदगी पर कथित खतरे से उन्हें जेड सुरक्षा मिल जाती है और यहां मैं बलात्कार और मौत की धमकियों की जांच तक करवाने के लिए जूझ रही हूं। स्मृति ने तत्काल जवाब देकर प्रियंका को बताया कि उनके पास जेड श्रेणी की सुरक्षा नहीं है। प्रियंका ने कहा कि वह गृहमंत्रालय के अंदरूनी कामकाज को नहीं जानतीं और उन्होंने अखबारों में छपी खबरों के हिसाब से यह बात कही।

 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button