एक्ट्रेस गई थी ‘लैला मजनू’ हासिल करने, मिली ‘मर्द को दर्द नहीं होता’

अभिनेत्री राधिका मदान रोमांस की सबसे बेहतरीन कहानी पर आधारित ‘लैला मजनू’ के लिए ऑडिशन देने गयी थी लेकिन किस्मत को कुछ और मंजूर था, उनकी झोली में एक्शन कॉमेडी फिल्म ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ आ गयी. राधिका ने कहा कि ‘लैला मजनू’ को लेकर बेहद उत्साहित थी क्योंकि उन्हें लगता था कि यह उनकी पहली फिल्म होगी जिसे कश्मीर की वादियों में फिल्माया जायेगा. वहीं, दूसरी तरफ एक्शन फिल्म थी जिसे उन्होंने कभी पसंद नहीं किया. यदि उन्हें मौका मिलता तो वह रोमांस या किसी अन्य तरह की फिल्में चुनती. 

फिल्म ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ के बारे में उन्होंने कहा कि जब इस फिल्म की शूटिंग कर रही थी तब उन्हें पता था कि यह अलहदा फिल्म होगी, क्योंकि इसका विषय एकदम अलग था. यह बेहद वास्तविक था और नया भी था लेकिन इसमें जोखिम भी अधिक था. साथ ही इस फिल्म को दर्शकों द्वारा नकारे जाने का खतरा भी था. 

पटाख़ा में उनका किरदार एकदम अलग है. राधिका ने चम्पा बनने के लिए वो हर काम सीखा है, जो किसी गांव की लड़की को करने पड़ते हैं. मसलन दूध काढ़ना, गोबर से कंडे (उपले) पाथना, घर लीपना, पानी से भरा मटका सिर पर रखकर चलना, रई से दही मथकर मक्खन निकालना वगैरह-वगैरह.

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button