इस समय बोली जाए कोई भी बात, तो होती है सच, जानिए कैसे…

- in धर्म

माता सरस्वती को विद्या, बुद्धि, ज्ञान और विवेक की देवी कहा जाता है। अंधकार से भरे हुए इस जीवन से इंसान को एक अच्छे रास्ते की ओर ले जाने का सारा बीड़ा वीणा वादिनी सरस्वती मां के कंधों पर ही होता है। देवी सरस्वती मनुष्य समाज को एक महानतम संपत्ति-ज्ञानसंपदा भी प्रदान करती हैं। माता सरस्वती को पुराणों में कमल के फूल पर बैठा हुआ दिखाया जाता है। कमल का फूल कीचड़ में खिलता है। लेकिन कीचड़ कमल के उस फूल को छू नहीं पाता है। इसी से मां सरस्वती हर किसी को यह संदेश देती है कि हम कितने भी दूषित वातावरण में क्यों ना रहे परंतु हमें अपने आपको ऐसा बना कर रखना चाहिए कि हम पर वह दूषित वातावरण किसी भी प्रकार का प्रभाव ना डाल पाए।इस समय बोली जाए कोई भी बात, तो होती है सच, जानिए कैसे...

इसके साथ ही आपको यह भी बता दें कि सनातन धर्म में मां सरस्वती को वीणा की देवी कहा जाता है और यह भी कहा जाता है कि 24 घंटे में एक बार मां सरस्वती हर व्यक्ति की जुबान पर जरूर आती हैं और उस दौरान व्यक्ति के द्वारा बोला गया कोई भी वाक्य सच हो जाता है। इसी वजह से आपने देखा होगा कि घर के बड़े-बुजुर्ग भी किसी के बारे में बुरा या अपशब्द बोलने से मना करते हैं। क्योंकि बड़े-बुजुर्गों का मानना है कि उस दौरान देवी सरस्वती हमारी जीभ पर बैठी हो सकती हैं, और वही जाने अनजाने में बोले जाने वाली ऐसी बातें अक्सर सच हो जाती हैं और यह कोई कल्पना नहीं है। बल्कि यह प्रमाणित सत्य है। आपको कभी भी किसी के बारे में ना तो बुरा बोलना चाहिए और ना ही उसके बारे में बुरा सोचना चाहिए। क्योंकि मां सरस्वती कब आपकी जीभ पर आ जाएं। इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता।

अगर मान्यताओं की माने तो रात के करीब 3:10 से 3:15 तक का जो समय होता है। वह सर्वोत्तम समय होता है और इस 5 मिनट के समय के दौरान जो भी बात बोली जाती है। वह अवश्य सच जरूर हो जाती है। आप लगातार एक महीने तक बिल्कुल इसी वक्त के दौरान आप अपनी मनोकामनाओं को जरूर बोलें। आपकी वह इच्छा मां सरस्वती जरूर पूरा करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

एक बार महादेवजी धरती पर आये, फिर जो हुआ उसे सुनकर नहीं होगा यकीन…

एक बार महादेवजी धरती पर आये । चलते