इस कुत्ते के नाम पर है 50 लाख का ईनाम, जानिए क्यों

कोलंबिया में सोंब्रा नाम के एक कुत्ते के लिए ऐलान किया गया कि उसे जिंदा या मुर्दा पकड़ कर लाने वाले को लाखों के र्इनाम दिया जायेगा। र्इनाम की राशि भी छोटी मोटी नहीं बल्कि लगभग 50 लाख रुपए की है। दुनियाभर में ड्रग तस्करी के लिए चर्चित कोलंबिया में सोंब्रा नाम के एक जर्मन शेफर्ड कुत्ते ने कई तस्करों को मुश्किल में डाल दिया है। इसने महज 2 साल में ही लगभग 68 करोड़ रुपए की ड्रग पकड़वा दी है। इसकी वजह से अब नशे का धंधा करने वाले हैरान हैं आैर उससे मुक्ति पाना चाहते हें।

इस कुत्ते से छुटकारा पाने के लिए उन्होंने उसके ऊपर 50 लाख रुपए का र्इनाम तक घोषित कर दिया है। सुनने में आया है कि तस्करों के समूह में ये संदेश जारी किया गया है कि सोंब्रा को जिंदा या मुर्दा लाने वाले व्यक्ति को 70,000 अमेरिकी डाॅलर यानि 48,11,450 रुपए का र्इनाम दिया जाएगा।

ये कुत्ता वहां की लोकल पुलिस के लिए कितना स्पेशल है इस बात का अंदाजा इसी बात से हो गया जब टेलिग्राफ ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया की कोलंबिया की पुलिस ने खुद ट्वीट कर के ये जानकारी दी है। पुलिस विभाग ने बताया कि जर्मन शेफर्ड सोंब्रा पिछले करीब 2 साल से अधिक समय से कोलंबिया के पुलिस विभाग के साथ काम कर रहा है आैर उसकी मदद से 245 अपराधियों की गिरफ्तारी की जा चुकी है।

सांब्रा की ज्यादातर ड्यूटी यहां के दो बड़े एयरपोर्ट पर रहती हैं। पहली बार उसकी सबसे बड़ी उपलब्धि 2016 में रही थी जब उसने गुप्त तरीके से केले के बक्से में रख कर बेल्जियम भेजी जा रही 2958 किलो कोकीन को अपनी सूंघने की खास क्षमता की मदद से जब्त करा दिया था। इसके बाद मर्इ 2017 में सोंब्रा ने एक बार फिर कमाल किया आैर एक बार फिर बेल्जियम भेजी जा रही 1.1 टन कोकीन को बरामद करा दिया। इसके बाद सबसे बड़ी कामयाबी उसे तब मिली जब उसने इसी साल जून में उसने 5.3 टन कोकीन पकड़वा दी। बस तभी से वो तस्करों की आंख की किरकिरी बन गया।

अमृतसर ट्रेन हादसे पर विदेश में दुख, इमरान खान ने जताया अफसोस

अब तक के दमदार कारनामों के बाद मिलने वाली धमकियों के चलते अब इस कुत्ते को विशेष सुरक्षा दर्जा प्राप्त हो गया है। उसे मिलने वाले स्पेशल प्रिजलेज में से सबसे बड़ा काम तो ये हुआ है कि सोंब्रा अब बुलेटप्रूफ गाड़ी में चलता है। इतना ही नहीं उसके साथ 2 गनमैन भी रहते हैं। एयरपोर्ट पर सबसे भीड़ भाड़ वाले समय पर वो लगातार लगभग 6 घंटे के लिए ड्यूटी पर रहता है। उस के साथ काम करने वाले पुलिसकर्मी कहते हैं कि सामान्य कुत्तों की तुलना में सोंब्रा काफी तेज है। इसकी उम्र करीब 6 साल बतार्इ जा रही है आैर अब तो वो सेलिब्रिटी का दर्जा हासिल कर चुका है।

 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button