इन 10 चीजों में छिपा प्रोटीन-फाइबर का खजाना, मॉर्निंग डाइट में करे शामिल

मॉर्निंग डाइट (Morning Diet) में अनहेल्दी चीजें खाने की बजाय ब्रेकफास्ट (Breakfast) में कुछ ना खाना ज्यादा बेहतर है. हेल्थ एक्सपर्ट मानते हैं कि ब्रेकफास्ट डाइट बैलेंस रखने से न सिर्फ शरीर को एनेर्जी मिलती है, बल्कि ये पूरे दिन भूख को भी कंट्रोल रखती है. आइए आपको बताते हैं दुनिया की 10 सबसे बेहतरीन ब्रेकफास्ट डाइट के बारे में.

Loading...
healthy and junk food concept – woman with fruits rejecting hamburger and cake

अंडे को प्रोटीन (Egg protien) का राजा कहा जाता है. कम कैलोरी वाले अंडे से शरीर को न सिर्फ पर्याप्ट प्रोटीन मिलता है, बल्कि इससे खून में शुगर की मात्रा और इंसुलिन लेवल भी कंट्रोल रहता है. अंडे के सफेद भाग में प्रोटीन होता है और अंदर के पीले वाले हिस्से (यॉक) में ल्यूटीन और जीक्सानथीन होता है. ये एंटी-ऑक्सीडेंट्स आंखों से जुड़े कई डिसॉर्डर दूर करने में मददगार हैं.

मार्केट में कई तरह के यॉगर्ट उपलब्ध हैं. इनमें ग्रीक यॉगर्ट सबसे कॉमन है. डाइटीशियन खुद इसे लेने की सलाह देते हैं. ये यॉगर्ट वर्कआउट के बाद शरीर को दोगुनी मात्रा में प्रोटीन देता है. एक मीडियम साइज के ग्रीक यॉगर्ट बाउल से शरीर को 8 से 10 ग्राम प्रोटीन मिल जाता है. इसमें मौजूद ‘कॉन्जुगेटेड लीनोनिक एसिड’ वजन घटाने के साथ-साथ ब्रेस्ट कैंसर का खतरा भी कम करता है.

कॉफी में मौजूद हाई कैफीन को इंसान की मानसिक सेहत के लिए अच्छा माना जाता है. वजन घटाने से लेकर मेटाबॉलिज्म सिस्टम को दुरुस्त रखने के लिए भी कॉफी को अच्छी डाइट माना जाता है. रोजोना 38 से 400 ग्राम तक कॉफी का सेवन करने पर कोई साइडइफेक्ट्स नहीं हैं. कोशिकाओं की देखभाल, डायबिटीज कंट्रोल, लिवर समस्या या सूजन के मामले में भी ये काफी फायदेमंद है.

ब्रेकफास्ट के लिए ओट्समील भी एक बेहतरीन डाइट है. फाइबर से भरपूर ओट्समील कॉलेस्ट्रोल लेवल को कंट्रोल करता है. इसमें पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट्स दिल की सेहत के लिए अच्छे हैं और ये ब्लड प्रेशर का खतरा भी कम करते हैं. 235 ग्राम ओट्समील में सिर्फ 6 ग्राम प्रोटीन होता है, इसलिए कम प्रोटीन लेने वालों के लिए ये अच्छी डाइट है.

पोषक तत्वों से भरपूर चिया सीड्स (chia seeds) हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है. शरीर के लिए जरूर फाइबर का यह काफी अच्छा स्रोत है. 100 ग्राम चिया सीड्स में 486 किलो कैलोरी होती है. इसके अलावा इसमें 42.1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 34.4 ग्राम फाइबर पाया जाता है. इतना ही नहीं, विटामिन बी-1, बी-2, बी-3 और बी-9 से लैस चिया सीड्स में कॉपर (0.924 मिलीग्राम), आयरन (7.7), पोटोशियम (407 मिलीग्राम) और जिंक (4.58 मिलीग्राम) भी पाया जाता है.

स्वादिष्ट और एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर बैरीज के कई प्रकार होते हैं. अपनी मॉर्निंग डाइट में ब्लूबैरीज, रास्पबैरीज, स्ट्रॉबैरीज और ब्लैकबैरीज शामिल कर सकते हैं. दूसरे फलों की तुलना में इसमें काफी कम शुगर होता है और फाइबर की मात्रा काफी ज्यादा होती है. इसमें मौजूद एंथोसायनिन एंटी-ऑक्सीडेंट दिल की सेहत के लिए काफी अच्छा है.

ब्रेकफास्ट डाइट में हर किसी को बादाम-अखरोट जैसी मेवा शामिल करनी चाहिए. इस तरह के सभी मेवों में मैग्नीशियम, पोटैशियम और दिल की सेहत के लिए जरूरी मोनोअनसैच्युरेटेड फैट होता है. आपको ऑर्गैनिक बादाम खरीदने चाहिए. चूंकि बादाम के छिलके का पाचन मुश्किल होता है, इसलिए आयुर्वेद में बादाम भिगोकर छिलका निकालकर खाने की सलाह दी गई है. इससे बादाम आसानी से पच जाता है.

ग्रीन टी को दुनिया की सबसे हेल्दी ड्रिंक माना जाता है. ये ना सिर्फ आपके मैटाबॉलिज्म सिस्टम को दुरुस्त करती है, बल्कि वजन घटाने में भी काफी कारगर है. डायबिटीज के रोगियों के लिए तो ये एक रामबाण इलाज है. कई रिपोर्ट्स में ऐसा दावा किया जा चुका है कि ग्रीन टी शरीर में शुगर लेवल और इंसुलिन लेवल को कंट्रोल रखती है.

हर व्यक्ति को अपने दिन की शुरुआत प्रोटीन शेक से करनी चाहिए. आप व्हे, ऐग, सोया या मटर का प्रोटीन ले सकते हैं. इनमें से व्हे प्रोटीन को सबसे अच्छा माना जाता है और इसके कई फायदे भी बताए गए हैं. हाई प्रोटीन आपके दिनभर की भूख को कंट्रोल रखता है और मांसपेशियां मजबूत करने का भी ये एक अच्छा स्रोत है.

ब्रेकफास्ट में कोई भी एक फल शामिल करना बहुत जरूरी है. सभी तरह के फल विटामिन, पोटैशियम, फाइबर और लो कैलरी वाले होते हैं. यदि आपके शरीर में विटामिन-सी की कमी है तो आपको मॉर्निंग डाइट में खट्टे फल जरूर शामिल करने चाहिए. फल शरीर में पानी की कमी को पूरा कर डीहाइड्रेशन की समस्या नहीं होने देते हैं.

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *