इंग्लैंड को लगा तीसरा झटका, कुक भी लौटे पैवेलियन

रविचंद्रन अश्विन ने शनिवार को तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को करारा झटका दिया जब उन्होंने कप्तान एलिस्टेयर कुक को पैवेलियन लौटाया। इंग्लैंड ने समाचार लिखे जाने तक पहले दिन पहली पारी में 16 अोवरों में 3 विकेट पर 53 रन बना लिए हैं। मोईन अली 1 और जॉनी बेयरस्टो 1 रन बनाकर क्रीज पर हैं।

इंग्लैंड के कप्तान कुक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। कुक जब 3 रनों पर खेल रहे थे तब मोहम्मद शमी की गेंद पर तीसरी स्लिप में रवींद्र जडेजा ने उनका आसान कैच छोड़ा। हसीब हमीद (9) ने उमेश यादव की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश की, लेकिन गेंद उनके ग्लोब्ज से लगकर उछली और अजिंक्य रहाणे ने गली में आसान कैच लपका। कुक जब 23 रनों पर थे तब शमी की गेंद पर मिडविकेट पर अश्विन ने उनका आसान कैच छोड़ा।

जयंत यादव ने अपनी पहली ही गेंद पर जो रूट (15) को एलबीडब्ल्यू कर भारत को महत्वपूर्ण सफलता दिलाई। अब मेहमानों की उम्मीदें कुक पर टिक गई थी, लेकिन अश्विन ने उन्हें अपनी पहली ही गेंद पर विकेटकीपर पार्थिव पटेल के हाथों झिलवाया। कुक दो जीवनदानों का लाभ नहीं उठा पाए और 27 रन बनाकर पैवेलियन लौटे।

भारत की तरफ से करूण नायर को टेस्ट पदार्पण का मौका मिला। टीम इंडिया ने प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव किए। केएल राहुल के चोटिल होने की वजह से नायर को टेस्ट डेब्यू का मौका मिला। इसके अलावा विकेटकीपर रिद्धिमान साहा की जगह पार्थिव पटेल को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया। साहा भी चोट की वजह से इस मैच से बाहर है। इंग्लैंड की टीम में भी तीन बदलाव देखने को मिले। स्टुअर्ट ब्रॉड, जफर अंसारी और बेन डकैट की जगह क्रिस वोक्स, गैरेथ बैटरी और जोस बटलर को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया।

मोहाली का ठंडा मौसम इंग्लैंड के खिलाडि़यों के लिए राहतभरा रहेगा, लेकिन पीसीए स्टेडियम की पिच स्पिनरों के लिए मददगार साबित हो सकती है। यदि ऐसा हुआ तो मेहमान टीम की समस्या बहुत बढ़ जाएगी। इस मैदान पर पिछले वर्ष खेले गए टेस्ट मैच में स्पिनरों ने 34 विकेट झटके थे। यदि ऐसा रहा तो भारत की बढ़त और मजबूत होने की संभावना है। लेकिन यदि पिच तेज गेंदबाजों की मददगार दिखी तो विराट एंड कंपनी को इंग्लैंड के खिलाफ एक नई रणनीति के साथ मैदान पर उतरना होगा।

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली पर ब्रिटिश मीडिया के एक हलके ने गेंद से छेड़खानी के आरोप लगाए हैं। ऐसे में करियर के शानदार फॉर्म से गुजर रहे कोहली भी डु प्लेसिस की तरह सेंचुरी जड़कर जवाब देना चाहेंगे।

विकेटकीपर रिद्धिमान साहा की जगह 8 साल बाद अपना पहला टेस्ट खेल रहे पार्थिव पटेल लेंगे। भारत की नई दीवार चेतेश्वर पुजारा फॉर्म में हैं। वो दो टेस्ट में लगातार 2 शतक लगा चुके हैं। अजिंक्य रहाणे का खराब प्रदर्शन जरूर चिंता का विषय हो सकता है। हालांकि वे कभी भी फॉर्म में वापसी करने में सक्षम हैं। चोट से वापसी करने वाले केएल राहुल पिछले टेस्ट की असफलता को भुलाकर बेहतर प्रदर्शन करना चाहेंगे।

इंग्लैंड को स्टुअर्ट ब्रॉड की कमी खलेगी जिन्होंने में बेहतरीन गेंदबाजी की थी। जफर अंसारी की पीठ में दर्द ने इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टेयर कुक की चिंताएं बढा दी है। बेन डकेट को खराब फॉर्म के कारण बाहर रहना होगा जिनकी जगह जोस बटलर लेंगे।

मोहाली में शानदार रिकॉर्ड : मोहाली के पीसीए स्टेडियम में भारत का रिकॉर्ड बहुत अच्छा है। इस मैदान पर 1994 में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत को वेस्टइंडीज के हाथों हार मिली थी। इसके बाद से यहां खेले गए 11 टेस्ट मैचों में से 6 मैचों में भारत विजयी हुआ जबकि 5 टेस्ट ड्रॉ रहे। भारत ने इस मैदान पर खेले गए पिछले तीन टेस्ट मैचों में से 2 में ऑस्ट्रेलिया और 1 में द. अफ्रीका को हराया था।

टीमें: भारत: मुरली विजय, पार्थिव पटेल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, करूण नायर, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, जयंत यादव, उमेश यादव, मोहम्मद शमी।

इंग्लैंड: एलिस्टेयर कुक (कप्तान), हसीब हमीद, जो रूट, मोईन अली, बेन स्टोक्स, जॉनी बेयरेस्टो, जोस बटलर, आदिल रशीद, क्रिस वोक्स, जिमी एंडरसन, गैरेथ बैटी।

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button