दर्दनाक हादसा: आज के दिन हजारों सैनिकों की मौत से नहाया था अमेरिका

वॉशिंगटन:अमरीका के हवाई द्वीप में पर्ल हार्बर पर हुए जापानी हमले को कौन भूल सकता है जिसमें लगभग 2,500 अमरीकी मारे गए थे।इस हमले में अमरीका के 8में से 6 जंगी जहाज, क्रूजर,डिस्ट्रॉयर समेत 200 से ज्यादा एयरक्राफ्ट्स तबाह हो गए थे ।

अभी-अभी: रूस ने नोटबंदी को लेकर भारत को दी बड़ी धमकी

अमरीका के हवाई द्वीप में7 दिसंबर,1941 यानी आज ही के दिन सेकंड वर्ल्ड वॉर के दौरान जापानी एयरफोर्स ने चुपके से अमरीका पर हमला बोला था जिसके आज75 साल पूरे हो चुके हैं।जापानी बॉम्बर्स ने पर्ल हार्बर स्थित यू.एस नेवल बेस पर चुपके से कार्पेट बॉम्बिंग कर दी थी।

अभी-अभी: होटल में लगी भीषण आग, जिंदा जले पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के खिलाड़ी

जिसमें 2,403 अमरीकी सैनिक मारे गए थे और 1,178 घायल हो गए थे।उल्लेखनीय है कि जापान ने इस हमले में फाइटर जेट्स, बॉम्बर्स और टारपीडो मिसाइल्स का इस्तेमाल किया था।2016_12image_15_09_242

जापान ने यू.एस पेसिफिक फ्लीट(बेड़े) को बेअसर करने के लिए पर्ल हार्बर पर हमला किया था जिसे अमरीका के तत्कालीन राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट ने 7 दिसंबर,1941 को ‘कलंक का दिन’ कहा था।

अमेरिका और ईरान को चीन ने दी परमाणु हमले की धमकी

इतना ही नहीं फिर हमले के दूसरे दिन 8 दिसंबर,1941 को अमरीका भी सेकंड वर्ल्ड वॉर में कूद पड़ा और जापान के खिलाफ जंग का एलान कर दिया।जिसके अंजाम जापान को  हिरोशिमा और नागासाकी पर ‘एटम बम’ अटैक के रूप में भुगतना पड़ा।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button