अब घर पर ही लीजिए मोमोज का मजा

मोimages (6)मोज तिब्बत की रैसिपी है। खाने में बड़े ही स्वादिष्ट होते है, इसलिये भारत में मोमोज बहुत पसन्द आने लगे हैं, मोमोज बनाने में तेल का प्रयोग बहुत ही कम होता है, और इस खाने को भाप से पकाया जाता है। इसलिये मोमो जल्दी पचने वाला और पोष्टिक खाना है। मोमोज से ज्‍यादा लोग उसकी लाल मिर्च वाली चटनी को पसंद करते हैं। जहां मोमोज बिना मसाले का होता है वहीं पर इसकी लाल वाली चटनी मिच और अन्‍य मसालों से भरी हुई होती है।

सामग्री: मोमो के लिय- मैदा -100 ग्राम, पिट्ठी के लिये, शिमला मिर्च – 1, बन्द गोभी -एक कप (कद्दूकस किया हुआ), गाजर – आधा कप कद्दूकस की हुई, टोफू या पनीर – आधा कप क्रम्बल किया हुआ, तिल का तेल – 2 टेबल स्पून, काली मिर्च – एक चौथाई चम्मच से कम, लाल मिर्च – 1/4 चम्मच से आधा, हरी मिर्च – 1 बारीक काटा लीजिये, अदरक – 1 इंच टुकड़ा (कद्दूकस किया हुआ), सिरका 1 टेबल स्पून, सोया सास – 1 टेबल स्पून, हरा धनियाँ – 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ), नमक – स्वादानुसार (1/4 छोटी चम्मच से थोड़ा अधिक)

विधि:

मैदा को किसी बर्तन में छानकर नरम आटा गूंथ कर तैयार कर लें। अब इस आटे को 1 घंटे के लिए ढककर रख दें, ताकि आटा फूल जाए। कढ़ाई में तेल डाल कर गरम करें। अदरक, हरी मिर्च डालकर थोड़ा-सा भून लिजिए। अब कटी हुई सब्जियां, टोफू या पनीर डाल दीजिए।

काली मिर्च, लाल मिर्च, सिरका, सोया सास, नमक और हरा धनिया मिला कर 2 मिनट तक भून लें। मोमोज में भरने के लिये पिठ्ठी तैयार है। अगर आप इसमें प्याज और लहसुन का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो पहले प्याज और लहसुन को सब्जी डालने से पहले भून लें। इसके बाद सब्जी को डालकर भूनें।

अब गूंथे हुए आटे से छोटी-छोटी गोल लोईयां बना लिजिए। लोई को सूखे मैदे में लपेट कर गोल गोल 3 इंच व्यास की पूरी की तरह पतला बेल लें। बेली हुई पूरी में पिठ्ठी भरें और चारों ओर से मोड़ते हुए बन्द कर दें। आप पिठ्ठी भरकर इसे गुझिया की तरह मोड़ डालते हुये भी बन्द कर सकते हैं।

सभी मोमोज इसी तरह तैयार कर लें। अब इन्हें भाप में पकाना है। इसके लिए आपको मोमोज पकाने वाल बर्तन लेना पडे़गा, जिसमें चार या पांच बर्तन एक के ऊपर एक लगे रहते हैं। नीचे का खाना थोड़ा बड़ा होता है जिसमें, पानी भरा जाता है, और ऊपर के तीन या चार बर्तन में जाली रह्ती है।

सबसे नीचे वाले बर्तन में एक तिहाई बर्तन पानी से भर कर गैस पर गरम होने के लिए रख दें। दूसरे, तीसरे, चौथे बर्तन में मोमोज रख दें। अब इन्हें भाप में 10 मिनट तक पकाएं। सबसे नीचे वाले बर्तन के मोमोज पक गये हैं तो अब दूसरे बर्तन को नीचे कर दें और इस बर्तन को सबसे ऊपर कर दें। 8 मिनट बाद इसे भी ऊपर कर दें और तीसरे बर्तन को नीचे। 5-6 मिनट भाप में मोमोज को सेक लें। अब मोमोज तैयार हैं।

अगर आपके पास मोमोज पकाने का बर्तन नहीं है तो किसी इस तरह के बर्तन में पानी भर कर गरम कीजिए। बर्तन ऐसा हो जिसमें चावल छानने वाली छलनी आ जाए। इस छलनी में मोमोज लगा कर रखिए। अब छलनी को गरम पानी के बर्तन में इस तरह लगाइए कि पानी छलनी के अन्दर न जाए। इसके लिए पानी में भी मैटल स्टैन्ड रख लें। 10 मिनट तक मोमोज को भाप में पकाएं। इस तरह बारी-बारी से सभी मोमोज पका सकते हैं। मोमोज को आप लाल मिर्च की चटनी या फिर हरे धनिए की चटनी के साथ खा सकते हैं।

मोमोज के साथ खाने के लिये चटनी:

यूं तो देश में कई तरह की चटनियां बनाई जाती हैं, लेकिन मोमोज के साथ खाने के लिए एक खास प्रकार की चटनी बनाई जाती है। आइए इस चटनी को बनाना भी सीखते हैं।

सामग्री: टमाटर – 2, लाल मिर्च साबुत – 5-6, जीरा – आधा छोटी चम्मच, मैथी दाना – आधा छोटी चम्मच, हल्दी – 2 पिंच, हींग – 1-2 पिंच, नमक – स्वादानुसार, तेल – 1 टेबल स्पून

विधि:

टमाटर को अच्छे से धोकर काट लिजिए। कढ़ाई में तेल गरम करके हींग, जीरा और मेथी दाना डाल कर तड़का लें। अब हल्दी डाल कर टमाटर और लाल मिर्च डालिए और 3-4 मिनट तक पका लें कि टमाटर अच्छे से गल जाएं। ठंडा होने पर मिक्सर में डालकर नमक मिलाइए और बारीक पीस लीजिए।

अगर आप चटनी में लहसुन का स्वाद पसन्द करते हैं, तो हींग की जगह 4-5 लहसुन की कली छील कर जीरा मेथी भुनने के बाद डालें। फिर बाकी सारे मसाले डालकर उपरोक्त तरीके से चटनी तैयार कर लें।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button