अब आप भी जीत सकते हैं 2.5 करोड़ रुपये, बस 5G इंटरनेट क लेकर करना होगा…

भारत को 5G नेटवर्क के दायरे में लाने और उसके प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए दूरसंचार विभाग (DoT) ‘5G हैकथॉन’ की शुरुआत करने जा रहा है. इस हैकथॉन में विजेता को 2.5 करोड़ रूपये की धनराशि पुरस्कार स्वरूप दी जाएगी. दूरसंचार विभाग ने सरकार, शिक्षा और उद्योग के धारकों के साथ मिलकर इसकी शुरुआत की है.

Loading...

इसका आयोजन नीति आयोग, एमएसएमई मंत्रालय, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रद्योगिकी मंत्रालय, डिजिटल इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, सेंटर फॉर डेवेलपमेंट ऑफ टेलीटेलीमैटिक्स (C-DoT) आदि के सहयोग से किया जा रहा है. इसका मुख्य उद्देश्य अत्याधुनिक विचारों को खोजकर उसे 5जी उत्पादों और उसके समाधानों के लिए शॉर्टलिस्ट करना है. 

इसमें 2.5 करोड़ की पुरस्कार राशि को तीन चरणों में बाटा गया है. इसमें जितने वाले विजेताओं के लिए एक मौका होगा की वो  DoT, MeitY और अन्य लिडिंग कंपनियों के समर्थन से एक 5जी एप्लीकेशन बनाकर तैयार करें. प्रतियोगिता के विभिन्न चरणों में मुख्य रूप से अत्याधुनिक विचारों अलग तरह से प्रस्तुत करना है. प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ 100 विचारों को चुना जाएगा जिसमें उत्पादों का विकास, नेटवर्क परीक्षण पर 30 सर्वश्रेष्ठ समाधानों का अनुसरण किया जाएगा.

सोने-चांदी की कीमतों में भारी उछाल, जानें आज का भाव

आपको बता दें कि 4जी के मुकाबले 5जी नेटवर्क स्पीड, डेटा और स्पेक्ट्रम दक्षता में कई ज्यादा लंबी छलांग लगाएगा. इसमें सबसे खास होगा की आप विभिन्न आर्थिक कार्यक्षेत्र के लिए अलग अलग ऐप का प्रयोग कर सकेंगे. प्रतिभागियों को स्वास्थ्य, शिक्षा और शासन, कृषि और पशुधन, पर्यावरण, सार्वजनिक सुरक्षा और आपदा प्रबंधन उद्यम, स्मार्ट शहरों और बुनियादी ढांचे, साइबर सुरक्षा, बैंकिंग, वित्त और बीमा, रसद और परिवहन, मल्टीमीडिया और प्रसारण सहित 10 श्रेणियों में से 5जी समाधान देने होंगे. 

इस प्रतियोगिता में भारत के शैक्षणिक संस्थान के छात्र और पंजीकृत कंपनियां भाग ले सकती है. प्रतियोगिता के जज पेनल में देश भर के शिक्षाविदों, उद्योग के नेताओं और विषय विशेषज्ञों को शामिल किया जाएगा, जो प्रस्तुतियों का आकलन करने के बाद विजेता घोषित करेंगे. प्रतियोगिता के बारे में अधिक जानकारी आप इस 5ghackathon.in वेबसाइट पर जा सकते है. 

loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *