पहले मायावती की मूर्ति तोड़ी, अब बसपा को तोड़ेंगे

लखनऊ. यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की मूर्ति को तोड़कर चर्चा में आये उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी अब बसपा को तोड़ने की तैयारी में जुट गए हैं.

टिकट बंटवारे को लेकर फिर छिड़ी चाचा-भतीजे में जंग, बदल दिए सात प्रत्याशी

यूपी के मेरठ जिले में बसपा को कड़ा झटका देते हुए अमित जानी एवं सरधना के सपा प्रत्याशी पिंटू राणा ने बसपा के 3 जिला पंचायत सदस्यों सहित दर्जन भर बसपा कार्यकर्ताओं को सपा में शामिल करवाया.अध्यक्ष अमित जानी अब बसपा

अध्यक्ष अमित जानी अब बसपा को तोड़ने की तैयारी में

लखनऊ स्थित सपा मुख्यालय पर अमित जानी ने जिला पंचायत सदस्य सत्य कुमार प्रजापति, शमशाद मेवाती, शफीक अहमद एवं बसपा नेता बाबर चौहान खरदौनी सहित दर्जन भर बसपा कार्यकर्ताओं को सपा की सदस्यता दिलवाई.

बता दें कि, तीनों जिला पंचायत सदस्य बसपा के कद्दावर नेता थे. जिनमें शफीक अहमद सपा विधायक गुलाम मोहम्मद के बेटे, शमशाद मेवाती सपा विधायक सरोजिनी अग्रवाल के भतीजेऔर सत्य कुमार प्रजापति जिला पंचायत अध्यक्ष मनिन्द्र पाल सिंह को हराकर चुनाव जीते थे. जबकि, बाबर खरदौनी किठौर विधानसभा क्षेत्र में कैबिनेट मंत्री शहीद मंजूर के प्रतिद्वंदी थे.

गौरतलब है कि, बाबर खरदौनी को सपा में लाकर अमित जानी ने शहीद मंजूर की जीत को काफी आसान कर दिया है. अमित जानी ने बताया कि बीजेपी और बसपा के कई और बड़े नेता उनके संपर्क में हैं, जिनको जल्द ही सपा में शामिल किया जायेगा.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button