अगस्त में FPI ने अब तक घरेलू पूंजी बाजार से निकाले 3,014 करोड़ रुपये

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने घरेलू पूंजी बाजारों से अगस्त महीने अब तक 3,014 करोड़ रुपये की निकासी की है। डिपॉजिटरीज के आंकड़ों के मुताबिक, 1 अगस्त से 23 अगस्त के बीच एफपीआई ने शेयर बाजारों से 12,105.33 करोड़ रुपये की निकासी की। लेकिन बांड बाजार में 9,090.61 करोड़ रुपये का निवेश किया।

Loading...

इस प्रकार समीक्षावधि में घरेलू पूंजी बाजार (शेयर और बांड) से कुल 3,014.72 करोड़ रुपये की निकासी की गई। हालांकि विशेषज्ञों ऐसा मानना है कि सरकार द्वारा एफपीआई पर कर-अधिभर हटाए जाने से वह वापस स्थानीय शेयर बाजारों में निवेश का रुख कर सकते हैं।

ग्रो के मुख्य परिचालन अधिकारी और सह-संस्थापक हर्ष जैन ने कहा, ’15 कारोबारी सत्रों में से केवल दो सत्र में ही विदेशी निवेशकों ने शुद्ध लिवाली की। अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध, ऊंची आय वाले निवेशकों पर बजट में टैक्स रेट बढ़ाने और अमेरिकी फेडरल रिजर्व के नीतिगत दरों में कटौती जैसे मिले-जुले कारणों के चलते एफपीआई की शेयर बाजार में बिकवाली जारी रही।

गौरतलब है कि सरकार ने शुक्रवार को अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए कई कदम उठाए जाने की घोषणा की थी। इसमें सुपररिच घरेलू और विदेशी निवेशकों पर बजट में लगाए गए कर-अधिभार को वापस लेना भी शामिल रहा। हालांकि, बजट से पहले एफपीआई लगातार लिवाली कर रहे थे।

उन्होंने घरेलू पूंजी बाजार में जून में 10,384.54 करोड़ रुपये, मई में 9,031.15 करोड़ रुपये, अप्रैल में 16,093 करोड़ रुपये, मार्च में 45,981 करोड़ रुपये और फरवरी में 11,182 करोड़ रुपये का निवेश किया था। बजट पेश होने के बाद जुलाई में एफपीआई ने 2,985.88 करोड़ रुपये की बिकवाली थी।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *