अगर चाहते हैं आपकी भी पूरी हो सभी मनोकामनाएं, तो इस नवरात्रि में जपे नौ देवी के बीज मंत्र

आप सभी को बता दें कि पौराणिक मान्यता के अनुसार नवरात्रि के नौ दिनों तक देवी दुर्गा की पूजा-आराधना का विधान है और जो इन्हे करता है वह सभी सुखो को भोगता है और उसे दुनिया की किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है. ऐसे में नव दुर्गा के इन बीज मंत्रों को प्रतिदिन देवी के दिनों के अनुसार जाप करना चाहिए. जी हाँ, देवी के दिनों के अनुसार मंत्र जाप करने से मनोरथ सिद्धि होती है. तो अब आइए जानें नौ देवियों के दैनिक पूजा के बीज मंत्र अर्थात व दुर्गा देवी के बीज मंत्र –अगर चाहते हैं आपकी भी पूरी हो सभी मनोकामनाएं, तो इस नवरात्रि में जपे नौ देवी के बीज मंत्र

1. शैलपुत्री- ह्रीं शिवायै नम:।

2. ब्रह्मचारिणी- ह्रीं श्री अम्बिकायै नम:।

3. चन्द्रघण्टा- ऐं श्रीं शक्तयै नम:।

4. कूष्मांडा- ऐं ह्री देव्यै नम:।

5. स्कंदमाता- ह्रीं क्लीं स्वमिन्यै नम:।

6. कात्यायनी- क्लीं श्री त्रिनेत्रायै नम:।

7. कालरात्रि – क्लीं ऐं श्री कालिकायै नम:।

8. महागौरी- श्री क्लीं ह्रीं वरदायै नम:।

9. सिद्धिदात्री – ह्रीं क्लीं ऐं सिद्धये नम:।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button