आपके जूते चप्पल भी खोल सकते हैं बंद किस्मत के ताले, जानिए कैसे ?

दोस्तों देखा जाए तो जूते चप्पल रोज मर्रा में इस्तेमाल होने वाली सबसे आम चीज हैं. हम जब भी घर से बाहर निकलते हैं तो इन्हें पैरो में डालना नहीं भूलते हैं. इन जूते चप्पलो को पहनकर ही हम बाहर के ज्यादातर कामो को निपटाते हैं. कुछ लोग तो घर के अन्दर भी स्लीपर पहनना पसंद करते हैं. कुल मिला कर कहा जाए तो ये हमारे रोज मर्रा की एक ऐसी चीज होती हैं जिसके बारे में हम कभी गहराई से नहीं सोचते हैं.

आपके जूते चप्पल भी खोल सकते हैं बंद किस्मत के ताले, जानिए कैसे ?लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन जूते चप्पलों का सही या गलत इस्तेमाल आपकी जिंदगी आबाद और बर्बाद दोनों ही कर सकता हैं. जब भी हम बाहर से आते हैं तो जल्दबाज़ी में जूतों को यहाँ वहां रख देते हैं. लेकिन आपके द्वारा की गई छोटी छोटी चीजें भी घर की सकरात्माका और नकारात्मक उर्जा पर प्रभाव डालती हैं. इन सभी बातो को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको वास्तु से जुड़ी कुछ ऐसी टिप्स बताएंगे जो आपके घर के जूते चप्पलो से सम्बंधित हैं. यदि आप इन वास्तु टिप्स को फॉलो करोगे तो आपके घर कभी कोई मुसीबत नहीं आएगी.

जूते चप्पल से जुड़ी उपयोगी वास्तु टिप्स

1. जब भी आप या आपके परिवार का कोई सदस्य बाहर से घर में आए तो अपने जूते चप्पलों को सीधा व्यवस्थित तरीके से रखे. घर के बाहर या अन्दर आड़े तिरछे और अव्यवस्थित तरीके से पड़े जूते चप्पल नकारात्मक ऊर्जा देते हैं. इन्हें ऐसा छोड़ देने से घर में लड़ाई झगड़े की स्थिति पैदा होती हैं. इसलिए इन्हें हमेशा जमाकर एक कोने में रखे.

2. घर के मुख्यद्वार के सामने कभी भी अपने जूते चप्पलों को नहीं रखे. घर के मुख्य द्वार से लक्ष्मी जी प्रवेश करती हैं ऐसे में उनके रास्ते में जूते चप्पलों का होना अच्छी बात नहीं हैं. वो इन्हें देख घर में प्रवेश नहीं करती हैं.

3. घर के बाहर रखी शू रेक की उंचाई घर की छत की हाईट की तुलना में एक तिहाई से ज्यादा नहीं होना चाहिए. आसन शब्दों में कहे तो शू रेक की हाईट जितना ज्यादा हो सके कम ही रखे. यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो घर के सदस्यों को स्वास्थ सम्बंधित परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं.

4. जूते चप्पलों को कभी भी घर के दक्षिण पूर्वी, उत्तरी या पूर्वी हिस्से में नहीं रखना चाहिए. बल्कि जूते चप्पलों को घर के पश्चिमी या दक्षिण पश्चिमी हिस्से में रखना शुभ माना जाता हैं. यदि आप इन नियमो का पालन नहीं करोगे तो आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता हैं.

5. जब भी आप शू रेक ख़रीदे तो कोशिश करे कि उसमे एक दरवाजा भी हो. शू रेक के बंद होने की वजह से उसके अन्दर की नकारात्मक उर्जा बाहर घर में नहीं फैलती हैं.

6. जहाँ तक हो सके जूते चप्पलों को घर के बेडरूम में ना रखे. इससे निकलने वाली एनर्जी शादीशुदा कपल के बीच तनाव पैदा कर सकती हैं.

7. शू रेक को कभी भी पूजा घर या किचन के नजदीक ना रखे. ऐसा करने से घर की बरकत जाती हैं.

8. यदि शू रेक घर के अन्दर रखी हैं तो उसे साफ़ सुथरा और व्यवस्थित रखे. साथ ही जूते चप्पलो पर लगी धूल मिट्टी बाहर ही निकाल ले. इस तरह आपका घर नकारात्मक उर्जा से दूर रहेगा.

 
Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button