लखनऊ: योगी सरकार का पेश हुआ दूसरा बजट, एक नज़र में देखें पूरी लिस्ट..

योगी सरकार ने शुक्रवार को अपना दूसरा बजट पेश किया। बजट की कुल राशि 4 लाख 28 हजार 384 करोड़ 52 लाख रुपये (4,28,384.52 करोड़ रुपये) की रही। 14 हजार 341 करोड़ 89 लाख रुपये (14,341.89 करोड़ रुपये) की नई योजनाएं। पिछले बार की तुलना में इस बार 11.4 प्रतिशत अधिक है बजट की राशि। बजट में आम जनता विशेष तौर पर शिक्षा और किसानों पर फोकस किया गया। जानिए, बजट की बड़ी बातें-
अब अयोध्या में हर वर्ष मनाई जाएगी दीपावली, बनारस में देव दीपावली, बरसाना में होली।
बजट में मदरसों के आधुनिकीकरण के लिए 440 करोड़ रुपये- वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल
कक्षा 1 से लेकर 8वीं तक की शिक्षा मुफ्त। मुफ्त किताबों के लिए 76 करोड़ रुपये

UP बजट: योगी सरकार मदरसों के आधुनिकीकरण पर भी हुए मेहरबान

5 शहरो में चालू होगा मेट्रो का काम। वाराणसी, मेरठ, गोरखपुर, इलाहाबाद, झांसी में मेट्रो के लिए 100 करोड़
राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के विजेताओं के लिए 3 करोड़ रुपये

एकलव्य क्रीड़ा कोष की स्थापना के लिए 25 करोड़ रुपये, स्पॉर्ट्स कॉलेज एवं स्टेडियम की स्थापना तथा उसके विकास के लिए 74 करोड़ रुपये।

दिव्यांग पेंशन योजना के लिए 575 करोड़ रुपये

 खाद के अग्रिम भण्डारण की योजना हेतु 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
महिला एवं बाल कल्याण योजना के लिए 8 हजार 815 करोड़ रुपये

 
पीएम ग्राम सड़क योजना के लिए 2 हजार 873 करोड़ रुपये
अब अयोध्या में हर वर्ष मनाई जाएगी दीपावली, बनारस में देव दीपावली, बरसाना में होली।

 
सचिवालय की आंतरिक सुरक्षा के लिए 13.50 करोड़ रुपये

 दीनदयाल उपाध्याय राजकीय मॉडल कॉलेज के लिए 26 करोड़
कुंभ मेला के लिए 1500 करोड़ रुपये- वित्त मंत्री

 
प्रदेश के 13 जिलों में कमर्शल कोर्ट का निर्माण होगा- वित्त मंत्री

 
शौचालय निर्माण के मामले में यूपी पहले स्थान पर- वित्त मंत्री

 
रामायण, कृष्ण, सूफी, बौद्ध सर्किट के लिए 70 करोड़ रुपये

राम परिपथ, कृष्ण परिपथ और बुद्ध परिपथ का निर्माण होगा

बजट में मदरसों के आधुनिकीकरण के लिए 440 करोड़ रुपये- वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल

मिड डे मील के लिए 2 हजार 48 करोड़ रुपये

कक्षा 1 से लेकर 8 तक के बच्चों के यूनिफॉर्म के लिए 40 करोड़ रुपये

 
उच्चतर शिक्षा अभियान के लिए 176 करोड़ रुपये

माध्यमिक शिक्षा कल्याण के लिए 480 करोड़ रुपये

कक्षा 1 से लेकर 8वीं तक की शिक्षा मुफ्त। मुफ्त किताबों के लिए 76 करोड़ रुपये

 
पीएम मातृ वंदना योजना के लिए 291 करोड़ रुपये

4 लाख 28 हजार 384 करोड़ 52 लाख रुपये (4,28,384.52 करोड़ रुपये) का कुल बजट

 
14 हजार 341 करोड़ 89 लाख रुपये (14,341.89 करोड़ रुपये) की नई योजनाएं

 
5 शहरो में चालू होगा मेट्रो का काम। वाराणसी, मेरठ, गोरखपुर, इलाहाबाद, झांसी में मेट्रो के लिए 100 करोड़

 
सरयू नहर परियोजना के लिए एक हजार 614 करोड़ रुपये- वित्त मंत्री

 
 
मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार के लिए 100 करोड़ रुपये- वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल

 
 
गंगा नदी के लिए 7482 करोड़ रुपये- वित्त मंत्री

 
 
कृषि पशुधन और विकास पर फोकस- वित्त मंत्री

 
 
प्रदेश में मेट्रो परियोजना के लिए 500 करोड़। सड़क बनाने के लिए 11 हज़ार 343 करोड़, पुल के लिए 1,817 करोड़ जारी किए गए

 
 
इन लाइनों के साथ वित्त मंत्री ने पेश किया बजट- साहिल से मुस्कुरा के तमाशा न देखिये हमने ये खस्ता नाव विरासत में पाई हैबारिश के इंतज़ार में सदियां गुज़र गई उठो जमी को चीर के पानी निकाल लो

 
 
युवाओं के लिए 250 करोड़ के स्टार्टअप फण्ड, दीन दयाल ग्रामोद्योग योजना के लिए 10 करोड़, खादी मार्केटिंग के लिए 20 करोड़

 
 गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिये 550 करोड़। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिये 1000 करोड़। आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे को 500 करोड़
 
 
संगठित अपराध पर लगाम के लिए यूपीकोका कानून लागू किया- वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल

 
 
25 लाख टन के अधिक चीनी का उत्पादन हुआ- वित्त मंत्री

 
 
80 लाख टन उन्नत गन्ना बीज किसानों को दिया गया- वित्त मंत्री

 
 
प्रदेश सरकार की अब तक की उपलब्धियां गिना रहे हैं वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल

 
 
20 नए कृषि केंद्रों की स्थापना की गई। जैविक खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है- वित्त मंत्री

 
 सीएम फल उद्यान योजना लागू की गई- वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल
 
 प्रदेश में जैविक खेती को बढ़ावा। विकास का रोडमैप तैयार किया जा रहा है- वित्त मंत्री
 
 
पिछले बार की तुलना में इस बार 11.4 प्रतिशत अधिक है बजट की राशि

 
 
4 लाख 28 हजार 388 रुपये का है इस बार का बजट

 
 
मंत्री ने शेरो-शायरी के साथ बजट पेश करना शुरू किया

 
वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल पेश कर रहे हैं बजट

 
ऐसा अनुमान है कि इस बार के बजट में युवाओं और किसानों पर विशेष ध्यान रखते हुए राज्य में इंफ्रास्ट्रक्चर और निवेश पर फोकस रखा जाएगा।

 
 
वित्त मंत्री स्पष्ट कर चुके हैं कि इस बार के बजट में समाज के हर वर्ग और प्रदेश का पूरा ख्याल रखा जाएगा।

 
 
वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल पेश करेंगे बजट। उम्मीद है कि लगभग सवा चार लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का यह बजट अब तक का सबसे बड़ा बजट होगा।

 
 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में उत्तर प्रदेश में सत्तारुढ़ बीजेपी सरकार शुक्रवार को दूसरा बजट पेश करने जा रही है।

 

 

 

 

Loading...

Check Also

डॉक्टर की खराब हैंड राइटिंग पर कोर्ट ने ठोका पांच हजार का जुर्माना

डॉक्टर की खराब हैंड राइटिंग पर कोर्ट ने ठोका पांच हजार का जुर्माना

डॉक्टरों की खराब लिखावट से परेशान इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने बहराइच के एक …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com