ये फायदे जान लेंगे तो हर दिन खाएंगे तरबूज

गर्मियां आते ही एक फल जो आपको हर जगह नजर आने लगता है, वह है तरबूज. सस्‍ता और किफायती दाम पर मिलने वाला यह फल ना केवल आपकी त्‍वचा, बाल के लिए फायदेमंद है. बल्‍क‍ि इसे खाने से शरीर में पानी का स्‍तर ठीक बना रहता है. यानी हमारी बॉडी हाइड्रेट रहती है. लेकिन यह तो इसके फायदों में से सिर्फ एक हैं, इसके फायदों को जानने के बाद आप इसे खाए बिना खुद को रोक नहीं पाएंगे.

बाल और त्‍वचा के लिए: तरबूज में लाइकोपिन होता है. यह तत्‍व त्वचा की चमक और बालों की मजबूती को बनाए रखता है. इसमें मौजूद विटामिन ए आंखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार है. इसकी तासीर ठंडी होती है, इसलिए इसे खाने से दिमाग ठंडा रहता है.

हृदय रोग से बचाव: अगर आप तरबूज पसंद करते हैं और खाते हैं तो आपका दिल मजबूत होगा. दरअसल, तरबूज कोलस्ट्रॉल के स्‍तर को नियंत्रित करता है जिससे दिल की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है. यही नहीं इसमें मौजूद पोटैशियम और मैगनीशियम ब्‍लड प्रेशन नहीं बढ़ने देता. जानकारों के अनुसार पोटैशियम खून की धमनियों और वाहिकाओं में कसाव को कम करता है. इसके कारण दिल से जुड़े पूरे तंत्र पर दबाव कम पड़ता है. इसमें मौजूद carotenoids खून में थक्‍का जमने नहीं देता. इसलिए इसे खाने से दिल का दौरा पड़ने की आशंका कम हो जाती है.

बोतल बंद पानी पीते हैं तो हो जाइए सावधान, वरना जाना पड़ेगा अस्पताल

डायबिटीज के रोगी भी खा सकते हैं: आमतौर पर यह माना जाता है कि डायबिटीज के रोगियों को मिठाई या कोई भी मीठा फल ज्‍यादा नहीं खाना चाहिए. लेकिन वह तरबूज खा सकते हैं. तरबूब में 99 फीसदी पानी और रफेज होता है. इसके अलावा पोटैशियम और मैगनीशियम से भरपूर होने के कारण शरीर में insulin अपना काम बेहतर ढंग से कर पाता है, जिससे ब्‍लड शुगर का स्‍तर सामान्‍य बना रहता है. इसमें Arginine नाम का तत्‍व भी होता है, जो insulin के असर को बढ़ाता है. अगर आपको डायबिटीज है तो आप इससे बनी करी, सलाद आदि खा सकते हैं.

रोमांस में भी फायदेमंद: तरबूज में Arginine होता है. रोमांस में अगर आप विफल हो रहे हैं, तो तरबूज खाना आपके लिए मददगार साबित हो सकता है. तरबूज खाने libido का स्‍तर बढ़ता है.

Loading...

Check Also

पुरुषों को उत्तेजित करने के लिए महिलाएं अपनाती है ये अनोखे तरीके, जिससे लड़के है अनजान

पुरुषों को अपनी ओर आकर्षित करना और रिझाना महिलाओं की एक बेहतरीन कला हैं और …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com