इस तरह सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल: पेट्रोलियम मंत्री

पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों के बीच पेट्रोलियम मंत्री ने बड़ा बयान दिया है. रायपुर में तेल की बढ़ती कीमतों के बारे में बात करने पर जी मीडिया से बात करते हुए पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान कहा कि कच्चे तेल के दाम बढ़ने के कारण पेट्रोल-डीजल के दामों में तेजी आ रही है. उन्होंने यह भी कहा कि मार्च के पहले हफ्ते में कच्चे तेल का दाम कम था तो पेट्रोल-डीजल के दाम भी कम रहें. धर्मेंद्र प्रधान ने कहा पेट्रोलियम मंत्रालय चाहता है कि पेट्रोल-डीजल जैसे पेट्रोलियम पदार्थ भी जीएसटी के दायरे में आ जाए.

वित्त मंत्रालय को कई बार पत्र भी लिखा

पेट्रोलियम मिनस्टर ने कहा कि हमारे मंत्रालय ने इसके लिए वित्त मंत्रालय को कई बार पत्र भी लिखा है. कई राज्य भी इसके लिए तैयार हैं. जीएसटी के दायरे में आने से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कमी आएगी. इससे पहले भी धर्मेंद्र प्रधान ने कहा था कि तेल की कीमतों पर असर इंटरनेशनल मार्केट से आता है. जैसे-जैसे इंटरनेशनल मार्केट में दाम बढ़ते हैं तो भारत में भी इसका असर होता है. उन्होंने पहले भी उम्मीद जताई थी कि जल्द ही पेट्रोल-डीजल को GST के दायरे में लाया जाएगा. इससे आम आदमी को बड़ी राहत मिलेगी.

देश से आरक्षण खत्म नहीं होगा
उन्होंने कहा कि राज्यों को विकास योजनाएं चलाने के लिए रेवेन्यू का यह बड़ा हिस्सा है. इसलिए अब तक राज्यों के बीच पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में लाने की सहमति नहीं बनी है. आरक्षण के मुद्दे पर भी धर्मेंद्र प्रधान ने अपनी राय रखते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री रहते हुए देश से आरक्षण खत्म नहीं होगा. हमारी पार्टी की ये स्पष्ट राय है. दलितों के मुद्दे पर राहुल गांधी की खराब राजनीति. झूठ कहना, अफवाह फैलाना, समाज में तनाव पैदा करना और षड्यंत करना राहुल गांधी का काम है.

पार्टी के 38वें स्थापना दिवस कार्यक्रम में अमित शाह ने कही ये बड़ी बात, कहा…

यह है कीमतों का गणित
इंडियन ऑयल की तरफ से पिछले दिनों जारी आंकड़ों के मुताबिक, ऑयल कंपनियां एक लीटर पेट्रोल के लिए 26.65 रुपये का भुगतान करती हैं. डीलर को इसकी बिक्री 30.13 रुपये में की जाती है. इसके ऊपर डीलर 3.24 रुपये का कमीशन लेता है. इस तरह कीमत 33.37 रुपये प्रति लीटर हुई. इसके ऊपर केंद्र की तरफ से 19.48 रुपये की एक्साइज ड्यूटी लगाई जाती है. इस हिसाब से पेट्रोल की कीमत 52.85 रुपये प्रति लीटर हो गई. इस पर दिल्ली में 26 फीसदी वैट लगाता है. इस तरह दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत करीब 67 रुपए हो जाती है. मौजूदा आंकड़ा इससे अलग हो सकता है. इसी तरह पिछले दिनों जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार एक लीटर डीजल के लिए तेल कंपनियां रिफाइनरी को 23.86 रुपये का भुगतान करती हैं. इस एक लीटर डीजल की बिक्री डीलर को 27.63 रुपये में की जाती है. इसके ऊपर डीलर का कमीशन 1.65 रुपये होता है. इस पर डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 15.33 रुपये है और दिल्ली में वैट 8.10 रुपये है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button