Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > फूलपुर और गोरखपुर उपचुनाव में 25% उम्मीदवारों की पृष्ठभूमि आपराधिक, और 11 निकले करोड़पति

फूलपुर और गोरखपुर उपचुनाव में 25% उम्मीदवारों की पृष्ठभूमि आपराधिक, और 11 निकले करोड़पति

उत्तर प्रदेश की फूलपुर और गोरखपुर लोकसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में 25 फीसदी प्रत्याशी आपराधिक छवि वाले हैं. वहीं उपचुनाव में दोनों निर्वाचन क्षेत्रों से चुनावी मैदान में उतरे 32 में से 11 प्रत्याशी करोड़पति हैं. इस उपचुनाव में करीब 78 फीसदी उम्मीदवार 50 वर्ष से कम आयु के हैं, लेकिन महिलाओं की भागीदारी मात्र 9 प्रतिशत ही हैं.

उत्तर प्रदेश के फूलपुर और गोरखपुर संसदीय सीटों पर हो रहे उपचुनावों को लेकर एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म (एडीआर), यूपी इलेक्शन वॉच ने अपनी रिपोर्ट जारी की है. एडीआर यूपी के मुख्य समन्वयक संजय सिंह ने फूलपुर और गोरखपुर पर हो रहे उपचुनाव के चुनावी मैदान में उतरे उम्मीदवारों की आपराधिक, वित्तीय और शैक्षिक पृष्ठभूमि का ब्यौरा पेश किया.

उन्होंने बताया कि गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में कुल 32 प्रत्याशियों में से आठ (25 फीसदी) ने अपने ऊपर दर्ज आपराधिक मामले घोषित किए हैं. फूलपुर सीट से निर्दलीय उम्मीदवार अतीक अहमद पर हत्या के 8 मामले और हत्या के प्रयास के तीन मामले दर्ज हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, अतीक अहमद पर कुल 53 आपराधिक मामले हैं. फूलपुर से ही पर्वितन समाज पार्टी के उम्मीदवार रईस अहमद खान के खिलाफ हत्या के प्रयास का एक मामला है. वहीं बीजेपी प्रत्याशी कौशलेंद्र सिंह पटेल पर पहली पत्नी के रहते धोखाधड़ी कर दूसरी शादी रचाने समेत दो आपराधिक मामले दर्ज हैं.

संजय ने बताया कि दोनों निर्वाचन क्षेत्रों से चुनावी मैदान में उतरे 32 में से 11 प्रत्याशी करोड़पति हैं. वहीं सभी उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 3.15 करोड़ रुपए है. सबसे ज्यादा अमीर प्रत्याशी फूलपुर से समाजवादी पार्टी के नागेंद्र प्रताप पटेल हैं. उनकी कुल संपत्ति 33 करोड़ रुपए है. वहीं 25 करोड़ रुपए की संपत्ति के साथ दूसरे नंबर पर फूलपुर सीट के निर्दलीय प्रत्याशी अतीक अहमद हैं. गोरखपुर से सर्वोदय भारत पार्टी के प्रत्याशी गिरीश नारायण पांडे 10 करोड़ रुपये संपत्ति के साथ तीसरे सबसे अमीर प्रत्याशी हैं.

सबसे ज्यादा कर्जदार प्रत्याशियों में गोरखपुर से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. सुरहिता करीम हैं, जिन पर तीन करोड़ रुपये का कर्ज है.दूसरे नंबर पर फूलपुर से सपा के नागेंद्र प्रताप पटेल हैं, उन पर एक करोड़ रुपए का कर्ज है. 88 लाख रुपए के कर्ज के साथ तीसरे नंबर पर फूलपुर से बीजेपी उम्मीदवार कौशलेंद्र सिंह पटेल हैं.

उन्होंने बताया कि एडीआर कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. सुरहिता करीम की आयोग से शिकायत करेगा, क्योंकि सुराहिता करीम ने 3 करोड़ की संपत्ति और 3 करोड़ की ही देनदारी बताई है.

उन्होंने बताया कि इन 32 में से 17 उम्मीदवार इनकम टैक्स रिटर्न फाइल नहीं करते हैं. वहीं 14 प्रत्याशियों ने आय का स्रोत नहीं बताया है.

फूलपुर और गोरखपुर में चुनाव लड़ रहे 78 फीसदी उम्मीदवार युवा हैं, जिनकी आयु 50 फीसदी से कम है, जबकि केवल 7 उम्मीदवारों की आयु 61 से 70 साल के बीच है. दोनों सीटों पर हो रहे उपचुनाव में तीन महिला उम्मीदवार मैदान में हैं यानी भागीदारी महज 9 फीसदी है.

Loading...

Check Also

महागठबंधन में शामिल होने के लिए शिवपाल यादव ने रखी बेहद कड़ी शर्त...

महागठबंधन में शामिल होने के लिए शिवपाल यादव ने रखी बेहद कड़ी शर्त…

प्रगतिशील समाजवादी के संरक्षक शिवपाल सिंह यादव ने 2019 के चुनाव में यूपी में संभावित …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com