अमेरिकी अदालत ने दिया बड़ा फैसला, ट्रंप नहीं कर सकते ट्विटर पर किसी को ब्लॉक

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ट्विटर पर किसी भी यूज़र को ब्लॉक नहीं कर सकते हैं. न्यूयॉर्क की एक अदालत ने बुधवार को ये फैसला सुनाया है. जज ने अपने फैसले में कहा है कि ऐसा करना नागरिक के अधिकारों का उल्लंघन होगा.अमेरिकी अदालत ने दिया बड़ा फैसला, ट्रंप नहीं कर सकते ट्विटर पर किसी को ब्लॉक

कोलंबिया यूनिवर्सिटी के नाइट फर्स्ट अमेंडमेंट इंस्टीट्यूट समेत कई अन्य ट्विटर यूजर्स ने इस मामले में अर्जी दाखिल की थी. मैनहटन की जिला जज नाओमी रीइस ने बुधवार को इस मामले में फैसला सुनाया है. अपने फैसले में उन्होंने कहा कि अगर ट्रंप किसी यूज़र को ब्लॉक करते हैं तो नागरिक के फ्रीडम ऑफ स्पीच (बोलने की स्वतंत्रता) अधिकार का उल्लंघन होगा. संविधान में संशोधन करने से पहले ऐसा करना गलत होगा.

ज़करबर्ग ने यूरोपीय संसद से मांगी माफ़ी

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ट्विटर समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई बार आलोचना का शिकार होते हैं. कई बार ट्रंप ने ट्विटर पर ही कई मीडिया हाउस की आलोचना भी की है. हालांकि, अदालत के इस फैसले पर अभी तक व्हाइट हाउस का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

सुनवाई के दौरान जज ने कहा कि हमारे सामने एक बड़ा सवाल है कि क्या कोई सार्वजनिक क्षेत्र का व्यक्ति इस तरह पब्लिक प्लेटफॉर्म पर किसी व्यक्ति को उसकी राजनीतिक राय देने से रोक सकता है. अगर हम संविधान के हिसाब से देखें तो उसे रोकने का अधिकार नहीं है.

जज ने अपने फैसले में कहा है कि अगर डोनाल्ड ट्रंप किसी आलोचक का ट्वीट नहीं देखना चाहते हैं तो वह उसे म्यूट कर सकते हैं. ऐसे में उन्हें उस व्यक्ति के ट्वीट नहीं दिखेंगे, हालांकि यूजर ट्रंप की प्रोफाइल देख सकता है. जज बोलीं कि सभी सार्वजनिक व्यक्तियों को संविधान का पालन करना चाहिए.

हालांकि, ट्रंप के वकीलों की तरफ से सुनवाई में कहा गया कि जिस ट्विटर अकाउंट को लेकर शिकायत की गई है, वह उनका पर्सनल अकाउंट है ऐसे में ये नियम इस पर लागू नहीं होता है. लेकिन जज ने अपना फैसला ट्विटर यूजर्स के हक में ही दिया. गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ट्विटर पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले नेताओं में से एक हैं. उनके ट्विटर पर 52 मिलियन (5.2 करोड़) फॉलोवर हैं. ट्रंप 2009 में ट्विटर से जुड़े थे. ट्रंप के इस पर्सनल अकाउंट के अलावा उनका आधिकारिक अकाउंट भी है, जो कि अमेरिकी राष्ट्रपति का होता है.

किसने की शिकायत?

दरअसल, ट्रंप की तरफ से काफी यूज़र्स को ब्लॉक किया गया था. उदाहरण के तौर पर हॉली ओ’राइली नामक ट्विटर यूज़र ने पिछले साल डोनाल्ड ट्रंप और पोप फ्रांसिस का एक मीम पोस्ट किया था. जिसके बाद ट्रंप ने उन्हें ब्लॉक कर दिया था. इसके बाद यूजर ने इस मामले के बारे में टाइम मैग्ज़ीन को बताया और मामला आगे बढ़ता चला गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

इस वजह से मालदीव में ब्रिटिश कालीन मूर्तियों को तोड़ा गया कुल्हाड़ी से..

मालदीव के निवर्तमान राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन द्वारा ब्रिटिश