UP: बिजली विभाग ने दी बड़ी राहत, 3 महीने के औसत के आधार पर आएगा बिल

लखनऊ : कोरोना के प्रकोप को लेकर यूपी के बिजली विभाग ने एक अहम फैसला लिया है. नए आदेश के मुताबिक यूपी में अप्रैल महीने का बिजली बिल पिछले तीन महीनों के औसत के आधार पर लिया जाएगा. यूपी में अप्रैल के बिजली बिल को लेकर विभाग से जारी हुआ आदेश बिजली बिल पिछले तीन महीनों के औसत के आधार पर लिया जाएगा.
दरअसल, मीटर रीडिंग के लिए घर-घर जाने पर उन एजेंटों को कोरोना से संक्रमित होने का खतरा होगा. यही वजह है कि बिजली विभाग ने तय किया है कि अप्रैल महीने का बिजली का बिल तीन महीने के औसत के आधार पर लिया जाएगा. आपको बता दें कि यूपी में बिजली विभाग मीटिर रीडिंग के आधार पर बिजली का बिल तैयार करता है और रीडिंग के लिए एजेंट डोर-टू-डोर जाते हैं. लेकिन कोरोना वायरस को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन की वजह से किसी का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो चुका है.
गौरतलब है कि कोरोना से बढ़ते खौफ के बीच सरकारें लोगों को राहत देने की तमाम कोशिशें कर रही हैं. इसी क्रम में यूपी के बिजली विभाग ने तय किया है कि अप्रैल महीने में बिजली का बिल उपभोक्ता के तीन महीने की बिजली खपत के औसत के आधार पर लिया जाएगा.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button