स्पॉट फिक्सिंग में फसा पाक बल्लेबाज

- in खेल

पाकिस्तानी बल्लेबाज शाहजेब हसन पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया गया है. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में शामिल होने के कारण शाहजेब हसन पर कड़ी कार्यवाही करते हुए ये कदम उठाया है. पीसीबी से मिली जानकारी के अनुसार पीसीबी ने बुधवार को इस संबंध में अपना फैसला सुनाया, पिछले साल हुए पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के दौरान हसन पर स्पॉट फिक्सिंग का आरोपों के घेरे में आया था.

शाहजेब हसन ने आचार संहिता के नियम 2.4.4 और 2.4.5 का उल्लंघन किया और उन्हें फिक्सिंग की जानकारी को छिपाने को दोषी पाया गया है. पीसीबी के बयान के अनुसार शाहजेब को पीसीबी द्वारा पिछले साल 18 मार्च को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया था और उन पर लगाए गए प्रतिबंध को समाप्त होने में अब 3 सप्ताह से भी कम समय रह गया है. हसन पर 10 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है.

सौरव गांगुली ने कहा-काश, धोनी 2003 वर्ल्‍डकप की मेरी भारतीय टीम में होते

पीसीबी के कानूनी सलाहकार तफाजुल रिजवी ने कहा, ‘उन पर लगा प्रतिबंध 17 मार्च को हट सकता है.लेकिन याद रखें कि भ्रष्टाचार विरोधी नियमों के अनुसार, आपको फिर से सुधार की प्रक्रिया के माध्यम से गुरजना होता है. पुनर्वास की दिशा में पहला कदम अपराध की स्वीकृति है. यदि वह स्वीकार नहीं करता कि वह दोषी था, तो उसके पुनर्वास प्रक्रिया शुरू नहीं हो सकती.’ गौरतलब है कि शाहजेब सहित पीएसएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में छह और खिलाडी भी निलंबन झेल रहे है जिनमे सरजील खान, खालिद लतीफ , नासिर जमशेद, मोहम्मद इरफान और मोहम्मद नवाज के नाम शामिल है.

You may also like

लखनऊ की निशा ने जीता महिला 5000 मीटर दौड़ का स्वर्ण

52वीं यूपी स्टेट जूनियर ( अंडर-20 पुरूष व