आज भारतीय नौसेना में शामिल होगी सबसे घातक पनडुब्बी INS वेला

नई दिल्ली: भारतीय नौसेना के लिए आज 25 नवंबर गुरुवार का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। ऐसा इसलिए क्योंकि आज बेड़े में एक नई सबमरीन शामिल होना के लिए तैयार है। आप सभी को बता दें कि इसका नाम है INS Vela। आप सभी को बता दें कि आईएनएस वेला को भारत की सबसे घातक पनडुब्बी कहा जा रहा है और इसे साइलेंट किलर का नाम दिया जा चुका है। आप सभी को बता दें कि यह कलावरी क्लास की चौथी सबमरीन है और यह स्वदेशी पनडुब्बी है। जी दरअसल भारत सरकार ने 2005 में फ्रांसीसी कंपनी मेसर्स नेवल ग्रुप के साथ ट्रांसफर ऑफ टेक्नोलॉजी के तहत करार किया था और इस सौदे की कीमत करीब 3.5 खरब रुपये थी।

वहीँ इस करार के तहत ही INS वेला को ‘मेक इन इंडिया’ अभियान के अंतर्गत तैयार किया गया है। आप सभी को हम यह भी बता दें कि आईएनएस वेला 221 फीट लंबी, 40 फीट ऊंची और 1565 टन भार वाली है। जी दरअसल इस में मैग्नेटिस्ड प्रोपल्शन मोटर है, जिसकी आवाज सबमरीन से बाहर नहीं जाती है। इस वजह से आईएनएस वेला को साइलेंट किलर कहा जा रहा है। इसी के साथ स्टील्थ टेक्नोलॉजी के चलते रडार इन्हें पकड़ नहीं पाते। आप सभी को यह भी बता दें कि आईएनएस वेला में दो 1250 केडब्ल्यू डीजल इंजन लगाए गए हैं और इसमें 360 बैटरी सेल्स हैं। कहा जा रहा है इन्हीं बैटरियों के चलते यह सबमरीन 6500 नॉटिकल माइल्स यानी करीब 12000 किमी की दूरी तय कर सकते है और यह सफर 45-50 दिनों का हो सकता है।

किन हथियारों से लैस है नई सबमरीन-
-टोरपीडो फायर वाले 6 टोरपीडो ट्यूब्स हैं।
-18 टोरपीडो लग सकते हैं एक बार में।
-एन्टी शिप मिसाइल SM39 से है लैस।
-सबमरीन से समंदर में माइंस भी बिछाई जा सकती हैं।
-22 नॉट है इसकी रफ्तार।
-सबमरीन स्पेशल स्टील से बनी है।
-जिससे यह समंदर में 350 मीटर की गहराई तक जा सकती है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 − 9 =

Back to top button