UP: प्रतापगढ़ में मिड डे मील का दूध पीकर 72 बच्चे बीमार, प्रधानाध्यापक निलंबित

प्रतापगढ़ के रानीगंज इलाके के फतनपुर प्राइमरी स्कूल में बुधवार को मिड डे मील का दूध पीने के बाद 72 बच्चों की तबियत बिगड़ गई। कई बच्चे बेहोश हो गए। इससे हड़कंप मच गया। दो बच्चों की हालत गंभीर देख डाक्टरों ने इलाहाबाद रेफर कर दिया।

 

UP: प्रतापगढ़ में मिड डे मील का दूध पीकर 72 बच्चे बीमार, प्रधानाध्यापक निलंबितअन्य बच्चों को जिला अस्पताल और सीएचसी गौरा में भर्ती कराया गया है। घटना की जानकारी मिलने पर डीएम अस्पताल पहुंचे। लापरवाही सामने आने पर प्रधानाध्यापक और एक सहायक अध्यापक को सस्पेंड कर दिया। साथ ही दो शिक्षकों का वेतन रोका गया है। पुलिस दो रसोइयों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। 

गौरा विकासखंड के फतनपुर प्राइमरी स्कूल में कुल 123 छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं। बुधवार को स्कूल लगभग 86 बच्चे पढने आए थे। दोपहर में स्कूल में तैनात तीन रसोइयों ने पहले बच्चों को खिचड़ी खिलाई। कुछ देर बाद सभी बच्चों को दूध पीने के लिए दिया। करीब एक घंटे बाद एक-एक कर बच्चों की हालत बिगड़ने लगी। उन्हें उल्टियां शुरू हो गईं। बच्चों का आरोप है कि स्कूल के भीतर उल्टी करने पर शिक्षक उन्हें डांटने लगे। लापरवाही बरतते हुए शिक्षक व रसोइयों ने बच्चों को बाहर कर स्कूल में ताला बंद कर दिया। 

मिड डे मील का दूध पीने के बाद बीमार बच्चे
बच्चे किसी तरह घर पहुंचे तो उनकी दशा देख परिजन हैरान हो गए। इस बीच कई बच्चे घर में बेहोश हो गए। यह देखकर रोना-पीटना मच गया। लोग अपने बच्चों को लेकर गौरा सीएचसी पहुंचे। एक-एक कर 72 बच्चों की तबियत बिगड़ गई। मामले की जानकारी मिलते ही एडीएम सोमदत्त मौर्य, एएसपी पश्चिमी बसंताल, एसडीएम रानीगंज, सीओ रानीगंज के साथ ही सीएमओ आसपास के डाक्टरों को लेकर अस्पताल पहुंचे।

पटहटिया कला के रहने वाले राजेश गौतम के बेटे अनुज गौतम (4) और बेटी बेबी गौतम की हालत गंभीर देख जिला अस्पताल भेजा गया। इसके अलावा 40 अन्य पीड़ित बच्चों को भी जिला अस्पताल एंबुलेंस व दूसरे वाहनों से भेजा गया। यहां जिलाधिकारी शंभु कुमार, सीडीओ राजकमल व सीआरओ अस्पताल पहुंचे। पीड़ित बच्चों का उपचार चल रहा है। हालत गंभीर होने के कारण अनुज और बेबी को डाक्टरों ने जिला अस्पताल से इलाहाबाद रेफर कर दिया। बेसिक शिक्षा अधिकारी दोनों बच्चों को लेकर एसआरएन रवाना हुए।

एक साथ इतनी संख्या में बच्चों के बीमार होने से गौरा सीएचसी से जिला अस्पताल तक चीखपुकार मची रही। बीएसए भूपेंद्र नारायण सिंह ने बताया कि लापरवाही बरतने वाले प्रधानाध्यापक आशुतोष शुक्ला व सहायक शिक्षक कमलेश पाल को सस्पेंड कर दिया गया है। शिक्षिका वाल्मीकि सरोज व अंजू यादव का वेतन रोक दिया गया है। घटना की जांच करने के लिए शिवगढ़ व पट्टी खंड शिक्षा अधिकारियों की कमेटी बनाई गई है।

पुलिस ने स्कूल से उल्टी वाली टाटपट्टी व चटाई अपने कब्जे में ले ली है। रसोइया विमला देवी की तबियत खराब होने के कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। रसोइया रामआसरे और क्रांति देवी को फतनपुर पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बच्चों को दिए गए दूध का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा गया है।

 
 

You may also like

इण्टरनेशनल एक्सपीरियन्स एक्सचेन्ज प्रोग्राम के तहत 28 को लखनऊ आएगा पेरू का छात्र दल

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस)