अमृत योजना के बाद भी ‘प्यासे’ हैं हजारों लोग, कनेक्शन तो मिला, पानी नहीं

- in उत्तरप्रदेश
कासगंज शहर की आधा दर्जन बस्तियों में पेयजल व्यवस्था के लिए शुरू की गई अमृत योजना के बाद भी लोग पानी को तरस रहे हैं। लोगों को आज भी योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा। लोग पेयजल के लिए परेशान हो रहे हैं।

केंद्र सरकार ने शहर के लिए 9.20 करोड़ की लागत से अमृत योजना की सौगात दी। इस योजना के तहत नगर की जिन बस्तियों में पेयजल की व्यवस्था नहीं था, उनमें पाइप लाइन बिछाकर पेयजल की सप्लाई देने की व्यवस्था की गई। 

योजना के तहत लोगों को नि:शुल्क कनेक्शन दिए गए। जल निगम ने योजना के तहत शहर की भूतेश्वर कॉलोनी, गंगेश्वर कॉलोनी, पाल नगर, कुशवाह नगर सहित अन्य नई बस्तियों में पाइप लाइन बिछाने के बाद 1505 परिवारों के कनेक्शन जोड़ दिए, लेकिन समस्या का निदान नहीं हुआ। 

कई घरों को नहीं मिल रहा पानी

घरों में पानी की सप्लाई न पहुंचने पर लोगों ने पालिका से शिकायत की। पालिका ने तीन टीम बनाकर कनेक्शनों की जांच के निर्देश दिए। पालिका की टीमें घर-घर जाकर पानी की सप्लाई न मिलने की सत्यता की जांच कर रही हैं। 

जांच में अधिकांश घरों में पानी की सप्लाई न मिलने की शिकायत सही पाई जा रही है। लवकुश नगर निवासी चंद्रपाल का कहना है कि कनेक्शन के लिए घरों में जो पाइप लाइन बिछाई गई है उसकी गुणवत्ता खराब है। गंगेश्वर कॉलोनी निवासी जावित्री ने बताया कि उनके घर में पानी की सप्लाई नहीं मिल रही। 

जलकल विभाग के सुपरवाइजर रोहन सिंह ने बताया कि अमृत योजना के तहत वे 500 कनेक्शन की जांच कर रहे हैं। अभी तक 300 से अधिक कनेक्शन की जांच की जा चुकी है। जिसमें अधिकतर कनेक्शन में पानी की सप्लाई न मिलने की शिकायत मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

केरल बाढ़ पीड़ितों की सराहनीय मदद हेतु यूपी पत्रकार एसोसिएशन को किया सम्मानित

लखनऊ : हाल ही में केरल में आयी