स्वीमिंग के वक्त अपनाएं ये आसान तरीकें, नहीं होगी टैनिंग की समस्या

- in जीवनशैली

तैराकी करना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्छा है। लेकिन तैराकी के जितने फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं। तैराकी से आपको कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्याएं भी हो सकती हैं, इतना ही नहीं तैराकी के दौरान आपको सबसे अधिक समस्या होती है टैनिन की। टैनिंग से आपकी त्वचा खराब हो सकती हैं। हालांकि टैनि‍न के कारण कई और भी हो सकते हैं, लेकिन मुख्य कारणों में तैराकी को ही माना जाता है। तैराकी के दौरान त्वचा पर टेनिन ना हो इसके लिए आपको कुछ उपाय अपनाने होंगे। आइए जानें तैराकी के दौरान त्वचा परटैनिन से बचने के उपाय।स्वीमिंग के वक्त अपनाएं ये आसान तरीकें, नहीं होगी टैनिंग की समस्या

आमतौर पर टैनिन का मतलब है त्वचा का किन्हीं कारणों से डार्क होना। यानी आपकी त्वचा का गोरा रंग काला पड़ गया है। कई बार टैनिन तेज धूप के कारण भी पड़ जाती है, जिसे आप सन बर्न भी कहते हैं, हालांकि सन बर्न से त्वचा जलती  है और एकदम लाल हो जाती है, इसमें कई बार रेशेज या लाल दाने भी हो जाते हैं, लेकिन टैनिन में त्वचा दिन-प्रतिदिन काली पड़ती जाती है।

टैनिन किसी भी उम्र में हो सकती है और इसके होने के कारण भी अलग-अलग हो सकते हैं। टैनि‍न आमतौर पर नियमित रूप से स्वीमिंग करने और तेज धूप में निकलते से होती है।

तैराकी करना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्छा है। लेकिन तैराकी के जितने फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं। तैराकी से आपको कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्याएं भी हो सकती हैं, इतना ही नहीं तैराकी के दौरान आपको सबसे अधिक समस्या होती है टैनिन की। टैनिंग से आपकी त्वचा खराब हो सकती हैं। हालांकि टैनि‍न के कारण कई और भी हो सकते हैं, लेकिन मुख्य कारणों में तैराकी को ही माना जाता है। तैराकी के दौरान त्वचा पर टेनिन ना हो इसके लिए आपको कुछ उपाय अपनाने होंगे। आइए जानें तैराकी के दौरान त्वचा परटैनिन से बचने के उपाय।

आमतौर पर टैनिन का मतलब है त्वचा का किन्हीं कारणों से डार्क होना। यानी आपकी त्वचा का गोरा रंग काला पड़ गया है। कई बार टैनिन तेज धूप के कारण भी पड़ जाती है, जिसे आप सन बर्न भी कहते हैं, हालांकि सन बर्न से त्वचा जलती  है और एकदम लाल हो जाती है, इसमें कई बार रेशेज या लाल दाने भी हो जाते हैं, लेकिन टैनिन में त्वचा दिन-प्रतिदिन काली पड़ती जाती है।

टैनिन किसी भी उम्र में हो सकती है और इसके होने के कारण भी अलग-अलग हो सकते हैं। टैनि‍न आमतौर पर नियमित रूप से स्वीमिंग करने और तेज धूप में निकलते से होती है।

धूप में निकलने से पहले अपनी त्वचा को पूरी तरह से ढक कर निकलें। जब भी बाहर जा रहे हों तो अपने आपको को कवर करें और स्वीमिंग पूल से आने के बाद तैयार होकर जब बाहर जाएं तो पूरी तरह से कवर होकर जाएं।

दरअसल, स्वीमिंग पूल को साफ करने के लिए उसमें कई केमिकल मिलाएं जाते हैं जो कि हमारी त्वचा के लिए नुकसानदायक होते हैं। आपको चाहिए कि स्वीमिंग पूल में बहुत अधिक देर तक ना रहें और ध्यान रखें कि स्वीमिंग पूल की समय-समय पर सफाई होती रहे जिससे आपकी त्व्चा को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो और आप स्वस्थ भी रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मां का दूध बच्चे के लिए सर्वोत्तम आहार : डॉ. सुहासिनी

हिमालया ड्रग कंपनी की आयुर्वेद एक्सपर्ट ने दिये