Home > जीवनशैली > खाना -खजाना > इन देशों में बैन हैं समोसा, टमाटर, नॉनवेज जैसी ये फेवरेट चीजें

इन देशों में बैन हैं समोसा, टमाटर, नॉनवेज जैसी ये फेवरेट चीजें

जिन चीजों को आप और आपके बच्चे बड़े चाव से खाते हैं, वो कई देशों में बैन हैं. इसके पीछे के कारण आपको चौंका देंगे. पढ़िए कहां क्या खाना मना है…

खुला दूध और बादाम
हमारे देश में अधिकांश खाने-पीने की चीजें खुले में बिकती हैं, जिनमें दूध सबसे ज्यादा है. इसके अलावा कई और चीजें हैं जो ज्यादातर खुले में बेची जाती हैं. पर अमेरिका में अधिकांश खुली वस्तुओं की बिक्री पर रोक है. वहां खुला दूध नहीं बेचा जाता. वहीं यूएसए के 22 राज्यों में बादाम खुले में बेचने पर पूरी तरह से प्रतिबंधित है.

वेजिटेरियन फूड
हमारे यहां ज्यादातर स्कूलों की कैंटीनों में नॉन-वेजिरेटियन फूड कम ही बेचे जाते हैं, लेकिन फ्रांस के स्कूलों के कैंटीनों में वेजिटेरियन फूड बैन हैं. इसके पीछे कारण यह बताया गया कि बच्चों को जरूरी पोषक तत्व मांसाहारी खाने से ही मिल सकता है.

शेप के चक्कर में समोसा बैन
समोसे के बारे में यह जानकारी आपको चौंका देगी. कई देशों में समोसा बड़े चाव से खाया जाता है और हमारे देश के प्रत्येक शहर के गली-मुहल्लों में सबसे ज्यादा बिकता है. पर सोमालिया में यह साल 2011 से पूरी तरह से बैन है. इसका कारण उसके शेप को लेकर जुड़ी आपत्तियों को बताया गया है. जिसे एक समुदाय विशेष ने उठाया था.

टोमैटो सॉस
अगर चाउमीन, मोमोस, ब्रेड, बर्गर, पिज्जा और फ्रेंच फ्राइज आपको बिना सॉस के दिए जाएं तो क्या आप खा पाएंगे. शायद नहीं. लेकिन फ्रेंच फ्राइज के देश फ्रांस ने अपने स्कूलों में साल 2011 से टोमैटो केचअप पर बैन लगा रखा है. इसके पीछे कारण यह बताया गया कि पुराने समय से खायी जाने वाली रीजनल चीजों को बढ़ावा देना है.

च्युइंगम पर ‘स्वच्छ सिंगापुर अभियान’
सिंगापुर अपने साफ-सुथरे माहौल की वजह से जाना जाता है. यहां गंदगी न फैले इस बात को ध्यान में रखते हुए च्युइंगम बैन किया गया है. यह बात शायद आपको थोड़ी अटपटी लगे, लेकिन यही सच है. स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए सिंगापुर सरकार ने साल 1992 को अपने च्युइंगम को बैन कर दिया था. वहां खुले में च्युइंगम फैलाने पर 500 डॉलर का फाइन लगाया जाता है.

Loading...

Check Also

तो छोटे भाई के इस मामूली मजाक से भाभी हो गयी गर्भवती, सुबह सुबह उठा और बाजार…

क्या कभी आपने सोचा है कि किसी को मजाक करना इतना भारी पड़ सकता है …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com