बेटी के सीने पर लात मारी, पड़ोसियों ने कपड़े फाड़े, शर्म से आकर युवती ने उठा लिया डरावना कदम

भोपाल। सातवीं की छात्रा के खुदकुशी के मामले में पुलिस ने 24 घंटे के अंदर 11 लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की एफआईआर दर्ज कर ली है। इसमें से चार आरोपियों पुलिस ने हिरासत में लिया है, बाकी फरार हैं। छात्रा की मां ने आरोप लगाया है कि आरोपियों ने उसकी बेटी के सीने पर लात मारी और सरेआम कपड़े फाड़कर उसको निर्वस्त्र करने की कोशिश की थी। इसी शर्म कारण उसने खुदकुशी कर जान दे दी । छात्रा ने आरोपियों के नाम सुसाइड नोट में भी लिखे थे। हालांकि खुदकुशी के दिन पुलिस ने सुसाइड नोट मिलने की छिपा ली थी।

बेटी के सीने पर लात मारी, पड़ोसियों ने कपड़े फाड़े, शर्म से आकर युवती ने  उठा लिया डरावना कदम पिपलानी पुलिस के अनुसार चालीस क्वार्टर पिपलानी में रहने वाले बाबूलाल मजदूरी करते हैं। परिवार में पत्नी के अलावा पांच बेटियां और दो बेटे हैं। चौथे नंबर की बेटी 14 वर्षीय मुस्कान सातवीं क्लास में पढ़ती थी। शनिवार की दोपहर करीब तीन बजे उसने घर में फांसी लगा ली थी। घटना स्थल से मिले सुसाइड नोट और परिजनों के बयानों के बाद पुलिस ने पड़ोसी मानसिंह, भद्दो, हरगोविंद सिंह, निंदा, गौरव, राहुल, कविता, कैसर, देवेंद्र, सोनू और तोता के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। उनमें एक परिवार के लोग शामिल हैं। इनमें दो दंपती और उनके बेटे हैं।

मां ने कहा-डंडे और पाइप से की मारपीट

मृतका छात्रा मुस्कान की मां मीराबाई ने नवदुनिया को बताया कि 26 जनवरी की रात घर के पास ही पड़ोस के कुछ लोग शराब पी रहे थे। इसी बात को लेकर उनसे विवाद हुआ था, लेकिन बात थोड़ी ही देर बाद खत्म हो गई थी। इसके बाद 27 जनवरी को वह घर के बाहर बैठी थी तभी आरोपी मानसिंह, उसके परिवार की महिला कैसर और गौरव परिजनों के साथ आ धमका। उसने बीती रात की बात को लेकर मारपीट करनी शुरू कर दी। बीच-बचाव करने के लिए उसकी बेटी मुस्कान आई तो मानसिंह के बेटे गौरव ने मुस्कान को डंडे और पाइप पीटा। उसके बाल पकड़कर जमीन पर घसीटा और उसके सीने पर लात मारी। उसके कपड़े फाड़कर उसे निर्वस्त्र करने की कोशिश की।

इस दौरान आसपास रहने वालों की भीड़ जमा हो गई थी। इस घटना के बाद मुस्कान ने फांसी पर लटककर जान दे दी थी। उसने जान देने से पहले सुसाइड नोट में आरोपियों के नाम लिखे थे। पुलिस ने 4 आरोपियों को तो हिरासत में लिया है, लेकिन जो फरार है, वे उन्हें धमका रहे हैं। आरोपियों ने मेरे साथ भी मारपीट की थी। आरोपी का परिवार मृतका के घर से 100 मीटर की दूरी पर रहता है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button