प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट बोले, राजनीति से प्रेरित है गैरसैंण के सारे आंदोलन

रानीखेत : गैरसैंण में स्थायी राजधानी को जितने भी आंदोलन चल रहे हैं, वह सब राजनीति से प्रेरित हैं। भाजपा सरकार ने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया है। पहली बार वहां बजट व राज्यपाल का अभिभाषण होने जा रहा है।

प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट बोले, राजनीति से प्रेरित है गैरसैंण के सारे आंदोलनभाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश सरकार के एक वर्ष पूरा होने पर उपलब्धियां गिनाई। उन्‍होंने कहा कि एक वर्ष का कार्यकाल उपलब्धियों भरा रहा है। कोई कलंक नहीं लगा। केंद्र के नक्शे कदम पर राज्य सरकार चल रही है। भ्रष्टाचार खत्म कर दिया गया है।

एनएच घोटाले में 20 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। सरकार की सख्ती का ही नतीजा है कि लगभग 50 करोड़ रुपये सरकारी खजाने में जमा हो चुका है। वहीं, विद्युत विभाग से 200 जबकि परिवहन विभाग से डेढ़ सौ करोड़ की आय अर्जित की गई है। यह बड़ी उपलब्धि है। कहा कि भिकियासैंण व ओखलकांडा में ई–हेल्थ सेंटर, 35 प्रमुख अस्पतालों में रेडियोलॉजी सेवा, आशा कार्यकर्ताओं को दो लाख का दुर्घटना बीमा, एएनएम को टेबलॉयड, ई रिक्शा, सौभाग्य योजना, 1100 पटवारियों व डॉक्टरों की नियुक्तियां तथा 47 अस्पतालों में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था की जा चुकी है।

साथ ही सौ करोड़ की लागत से केदारनाथ में केदारपुरी बसाई जा रही है। जो बड़ी उपलब्धि है। इस दौरान भीमताल विधायक राम सिंह कैड़ा तथा विधायक नैनीताल संजीव आर्या भी मौजूद रहे।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भट्ट के क्षेत्र में पहुंचने पर कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। कार्यकर्ताओं ने भट्ट को समस्याएं गिनाई। प्रदेश अध्यक्ष ने समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया साथ ही राज्य सरकार की योजनाओं को गांव गांव तक पहुंचाने का आह्वान किया। इस दौरान भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष विमला रावत, जिला उपाध्यक्ष चंदन भगत, महामंत्री प्रेम शर्मा, नगर अध्यक्ष विनोद भार्गव, मंडल अध्यक्ष ध्यान सिंह नेगी, मदन मेहरा आदि मौजूद रहे।

Loading...

Check Also

रणजी मुकाबल: मणिपुर की पूरी टीम 185 रन पर आउट...

रणजी मुकाबल: मणिपुर की पूरी टीम 185 रन पर आउट…

रणजी मुकाबले के तीसरे दिन मणिपुर ने 143 रन के बाद खेलना शुरू किया। लगातार …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com