उद्योगपतियों संग खड़ा होने पर नहीं लगता है दाग: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लखनऊ में उत्तर प्रदेश के लिए 60 हजार करोड़ रुपये की 81 परियोजनाओं का शिलान्यास किया. कार्यक्रम में उनके साथ गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के गवर्नर राम नाइक और सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद थे. इस कार्यक्रम में उद्योगपति मंगलम बिड़ला, गौतम अडानी समेत कई उद्योगपति भी शामिल हुए. इस महीने की यूपी में पीएम मोदी की यह छठी यात्रा है और लखनऊ की दूसरी यात्रा है.

उद्योगकारों की भूमिका अहम

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि नियत साफ हो तो बड़े से बड़ा काम भी किया जा सकता है.पीएम मोदी ने कहा, ‘जाने क्यों लोग उधोगपतियों के साथ खड़े होने में डरते हैं. जब नीयत साफ हो, इरादे नेक हों तो परिणाम दिखता है. महात्मा गांधी का जीवन इतना पवित्र था कि उनको बिड़ला जी के साथ रहने में कभी दिक्कत नहीं हुई. क्योंकि उनकी नीयत साफ थी.’ जैसे एक मजदूर, किसान और जनता की भागीदारी होती है वैसे ही देश के उद्योगकारों की देश को बनाने में अहम भूमिका रहती है. क्या हम उन्हें अपमानित करेंगे? चोर, लूटेरे कहेंगे?

महबूबा मुफ्ती ने कहा- भाजपा के साथ रहकर जहर का घूंट पिया

उद्योगपतियों के साथ का विरोध करने वाले पर्दे के पीछे तो उनसे खूब मुलाकात करते हैं और सामने आकर उनका ही विरोध करते हैं. नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के द्वारा कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उद्योगपतियों का साथ जरूरी है लेकिन जो गलत करेगा उसे या तो देश से भागना पड़ेगा या फिर जेल में जीवन बिताना पड़ेगा. पहले ऐसा नहीं होता था क्योंकि आज जो लोग विरोध कर रहे हैं पहले वो पर्दे के पीछे से इन्हें सपोर्ट करते थे. यह सबको मालूम है कौन लोग किसके हवाई जहाज से घूमते रहे.

यूपी में 50 से अधिक मोबाइल फोन बनाने वाली फैक्ट्रियां

पीएम मोदी ने कहा मैंने यूपी की 22 करोड़ जनता को वचन दिया था कि उनके प्यार को ब्याज़ समेत लौटाउंगा. यहां जो परियोजनाएं शुरू हो रही हैं वो उसी वचनबद्धता का हिस्सा हैं. ये प्रोजेक्ट्स उत्तर प्रदेश में आर्थिक और औद्योगिक असंतुलन को दूर करने में भी सहायक होंगे.

हम एक ऐसी व्यवस्था खड़ी करना चाहते हैं जहां किसी प्रकार के भेदभाव की गुंजाइश ना हो, प्रक्रियाओं में गति भी दिखे और संवेदनशीलता भी, ना अपना, ना पराया, ना छोटा, ना बड़ा, सबके साथ समान व्यवहार – ‘सबका साथ, सबका विकास हो’.

आज देश दुनिया के लिए मेबाइल बनाने का हब बनता जा रहा है इस विनिर्माण क्रांति की अगुवाई उत्तर प्रदेश कर रहा है. यूपी में 50 से अधिक मोबाइल फोन बनाने वाली फैक्ट्रियां काम कर रही हैं. दुनिया की सबसे बड़ी मैन्यूफेक्चरिंग यूनिट की भी शुरुआत यहां हो चुकी है.

आज की समस्याओं के लिए 70 वर्षों का शासन जिम्मेदार

देश अभी जिन समस्याओं का सामना कर रहा है, वह पिछले 70 वर्षों के शासन का परिणाम है. अगले साल मार्च तक सभी घरों तक बिजली पहुंच जाएगी. भारत को मोबाइल उत्पादन हब के रूप में पहचाना जा रहा है. मोबाइल उत्पादन के मामले में हम विश्व में दूसरे नंबर पर पहुंच गए हैं. प्रधानमंत्री ने विकास के अभाव के लिए पूर्ववर्ती गैर भाजपा सरकारों की आलोचना की, कहा कि उनके पास इच्छाशक्ति नहीं थी और उनके इरादे स्पष्ट नहीं थे.

पीएम ने अटल बिहारी वाजपेयी को किया याद

उन्होंने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी कहते रहे हैं कि वो ऐसा भारत देखना चाहते हैं जो समृद्ध हो, सक्षम हो और संवेदनशील हो. जहां गांव और शहरों के बीच खाई ना हो. जहां केंद्र और राज्य में, श्रम और पूंजी में, प्रशासन और नागरिक में फर्क ना हो.

पीएम मोदी ने कहा कि बिजली के क्षेत्र में जो भी सुधार किए गए हैं, उनसे देश और देश के सामान्य जन के हज़ारों करोड़ रुपयों की बचत हुई है. उदय योजना ने डिस्ट्रिब्यूशन कंपनियों को नई लाइफलाइन दी है. उजाला के LED बल्ब लगाए गए उससे 3 वर्षों के दौरान बिजली के बिल में करीब 50,000 करोड़ की बचत हुई है.

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि यहां मौजूद आप सभी को और तमाम निवेशकों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि अभी तो ये शुरुआत है. आप राष्ट्र निर्माण की एक महत्वपूर्ण इकाई हैं और आपके संकल्प, देश के करोड़ों नौजवानों को सपनों से भी जुड़े हुए हैं.

जनता को संकट से उबारना सरकार की जिम्मेदारी

पीएम मोदी ने कहा कि जनता को संकट से उबारना सरकार की प्राथमिक जिम्मेदारी है और हम पिछले चार वर्षों से इस जिम्मेदारी का निर्वहन करते आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि शनिवार को मुझे बेघर लोगों को अपने घर की चाबी सौंपने का मुझे अवसर मिला. पांच महीने में उत्तर प्रदेश में दूसरी बार उद्योग जगत के लोगों के साथ ऐसा मुलाकात हो रही है. पिछली बार फरवरी में सवा चार लाख करोड़ के निवेश की नींव रखी गई थी. पांच महीनें में अब 60 करोड़ की परियोजनाओं की नींव रखना अद्भुत सफलता है.

इन परियोजनाओं की शुरुआत के लिए सरकार, अफसर और यहां के किसान बधाई के पात्र हैं. किसानों को जमीन देने के लिए और यहां के पटवारी को भी बधाई और धन्यवाद अर्पित करता हूं. उन्होंने कहा कि देश को प्रधानमंत्री चला पाता या फिर पटवारी चला पाता है.

संतुलित विकास उत्तर प्रदेश की सबसे बड़ी आवश्यकता है और जनता के लिए ये खुशी की बात है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की सर्वांगिम विकास की नींव रखी है. उन्होंने प्रदेश के हर भूभाग के लिए काम किया और निवेश के लिए सभी जगहों का खयाल रखा. निवेश के लिए अनुकूल वातावरण तैयार करने के लिए मुख्यमंत्री योगी बधाई के पात्र हैं.

एक वो समय था जब निवेश के लिए यूपी को लोग चुनौती मानते थे लेकिन आज का ये आयोजन और निवेश उत्तर प्रदेश की बदलती तस्वीर का प्रतीक है.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री शनिवार को भी लखनऊ आए थे और यहां उन्होंने 3,897 करोड़ रुपये की 99 परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया था.

क्या बोले मुख्यमंत्री योगी

इस कार्यक्रम में सीएम योगी ने कहा कि पहले इन्वेस्टर समिट में यूपी सरकार ने उद्योगपतियों के साथ 4.68 लाख करोड़ रुपये का एमओयू किया था. उसके बाद अब पांच महीने के अंदर 60 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास करने जा रहे हैं.

सपा सरकार प्रहार करते हुए सीएम योगी ने कहा कि सपा सरकार के पांच साल के कार्यकाल में महज 57 हजार करोड़ का निवेश हुआ था. वहीं, यूपी सरकार ने महज दूसरे साल में ही 60 हजार करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास हो रहा है और 50 हजार करोड़ की परियोजनाएं पाइपलाइन में हैं.

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का काम भी होने जा रहा है जो देश का सबसे बड़ा हाईवे होगा. यह 241 किलोमीटर लंबा होगा. इसके अलावा इस साल के अंत तक हम एक और एक्सप्रेस वे के काम का शुरू करने जा रहे हैं जो आगरा को चित्रकूट और चित्रकूट को इलाहाबाद को जोड़ेगा.

उन्होंने कहा कि पहले कोई भी कंपनी या निवेशक प्रदेश में आना नहीं चाहते थे. बल्कि जो यहां थे वो भी यहां से जाने को तैयार थे लेकिन हमारे द्वारा बनाए गए वातावरण में बड़ी संख्या में निवेशकों ने उत्तर प्रदेश को चुना है.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री शनिवार को भी लखनऊ आए थे और यहां उन्होंने 3,897 करोड़ रुपये की 99 परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया था. आयोजन की तैयारियों से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एकमुश्त 60,228 करोड़ की निवेश परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे.

सपा ने किया हमला

मोदी के इस दौरे से कुछ ही घंटे पहले सपा ने 40 सेकेण्ड की वीडियो क्लिप जारी की, जिसमें भाजपा को उसके चुनावी वायदों को लेकर आड़े हाथ लिया गया है.

सपा ने ट्विटर के सहारे भाजपा पर निशाना साधा है. भाजपा के 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले जारी लोक कल्याण संकल्प पत्र के दस बिन्दुओं की याद सपा ने दिलायी है और पार्श्व में ‘तुम्हारा इंतजार है’ गीत बज रहा है.

किसानों की आर्थिक मदद से लेकर पुलिस व्यवस्था में सुधार, एंबुलेंस सेवा, पुलिस सहायता, हर हाथ को काम, मुफ्त लैपटाप और इंटरनेट जैसे वायदों को इसमें गिनाया गया है.

मोदी ने राहुल पर साधा निशाना

शनिवार को अपने लखनऊ दौरे के दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भागीदार वाले आरोप का जवाब दिया. उन्होंने कहा, ‘मुझ पर इल्जाम लगाया गया है कि मैं चौकीदार नहीं, भागीदार हूं. मैं इसे इनाम मानता हूं. मुझे गर्व है कि मैं देश के गरीबों का भागीदार हूं, दुखियारी मां का भागीदार हूं. मैं उस मां की पीड़ा का भी भागीदार हूं जो चूल्हे के धुएं में रहती थी.’

बता दें कि राहुल गांधी बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी की आय में अचानक वृद्धि और राफेल विमान सौदे में घोटाले का आरोप लगाते हुए पीएम मोदी को चौकीदार की बजाय भागीदार बताते रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ग्रीटिंग कार्ड प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सीएमएस छात्रा को

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (द्वितीय कैम्पस) की