भाभी का गला घोंट पंखे से लटका दी लाश, और इसकी वजह जान यकीन नहीं करेंगे आप

- in अपराध, राष्ट्रीय

परिवार में लड़ाई झगड़े होना आम बात हैं. खासकर कि सास बहू और भाभी ननंद के बीच अक्सर नोकझोक होती रहती हैं. लेकिन कई बार ये झगड़े इतने ज्यादा बढ़ जाते हैं कि इंसान एक दुसरे की जान लेने तक को हाबी हो जाता हैं. रिश्तेदारों की लड़ाई झगड़ो से जुड़ा ऐसा ही एक मामला उत्तरी दिल्ली से आ रहा हैं. यहाँ एक ननंद ने अपनी भाभी के तानो से तंग आकर उसकी हत्या कर डाली. इतना ही नहीं उसने इस हत्या को छिपाने के लिए भाभी की लाश को पंखे पर लटका दिया ताकि ये पूरा मामला खुदखुशी का लगे. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…भाभी का गला घोंट पंखे से लटका दी लाश, और इसकी वजह जान यकीन नहीं करेंगे आप

ननंद ने की भाभी की हत्या

जानकारी के मुताबिक ये पूरी घटना बाहरी दिल्ली के स्वरूप नगर इलाके की हैं. यहाँ 32 वर्षीय सीमा अपने पति मुकेश, 1 बेटे (4) और बेटी (6) के साथ काली विहार इलाके में रहती थी. इनके परिवार में मुकेश की 28 वर्षीय बहन सुनीता भी रहती हैं. सुनीता की अपनी भाभी सीमा से आए दिन नोकझोक होती रहती थी. सुनीता अपनी भाभी के तानो से इतनी तंग आ चुकी थी कि उसने सीमा की हत्या की प्लानिंग तक रच डाली. अपने प्लान को अंजाम देने के लिए सुनीता ने भाभी को छाछ में कीटनाशक दवाई मिलाकर पिला दी. जहरीली छाछ पीते ही सीमा बेहोश हो गई. इसके बाद सुनीता ने भाभी की साड़ी से ही उसकी गला घोट के हत्या कर दी. इस मर्डर को खुदखुशी दिखाने के लिए सुनीता ने भाभी की लाश को पंखे से लटका दिया. इसके बाद वो खुद घर छोड़ अपनी सहेली के यहाँ रहने लगी.

ऐसे पकड़ा पुलिस ने

मृतका सीमा का पति मुकेश सब्जी लाने ले जाने का काम करता हैं. शाम को जब वो घर आया तो अपनी बीवी को पंखे पर लटका देख उसके होश उड़ गए. उसने तुरंत इस बात की सुचना पुलिस को दी. सुचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच पड़ताल करने लगी. जांच में पुलिस को शक हुआ कि ये आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या हैं. इसलिए पुलिस ने इस वारदात की अलग नजरिए से जांच करना शुरू कर दी. पुलिस ने सीमा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा तो उसमे सीमा के शरीर में कीटनाशक पदार्थ होने की बात सामने आई. इससे पुलिस का शक और भी गहरा हो गया. वे असली कातिल की तलाश में जुट गई.

पूछताछ में ननंद ने कबूला जुर्म

घटना स्थल पर पुलिस को मुकेश की बहन सुनीता द्वारा छोड़ा गया एक नोट भी मिला. इस नोट में सुनीता ने घर छोड़ कर जाने की बात लिखी थी. इस नोट को पढ़ पुलिस के शक की सुई सुनीता पर गई. उन्होंने उसकी तलाश शुरू की तो वो अपनी सहेली के घर मिल गई. पुलिस ने जब सुनीता को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया. सुनीता का कहना हैं कि वो अपनी भाभी के रोज रोज के तानो से तंग आ चुकी थी इसलिए उसने ये बड़ा कदम उठाया. पुलिस ने IPC की हत्या से सम्बंधित धाराओं के तहत सुनीता के खिलाफ केस दर्ज कर लिया.

 

You may also like

इमरान खान का मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- ‘भारत के अहंकारी और नकारात्‍मक जवाब से निराश हूं’

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को नरेंद्र