सलमान की बेल पर कल होगा फैसला, आज भी रहेगे जेल में…

काले हिरण के शिकार के मामले में सजा सुनाए जाने के बाद सलमान खान की जमानत याचिका पर जोधपुर की सेशंस कोर्ट में बहस पूरी हो चुकी है और इस पर फैसला कल आएगा। जज रविंद्र कुमार जोशी सलमान के सामने सलमान के वकीलों ने अपना पक्ष रखा जिसके बाद जज ने सीजेएम कोर्ट से रिकॉर्ड तलब किया है जिसके बाद फैसला शनिवार को सुनाया जाएगा।

सलमान के वकीलों ने कोर्ट को कहा है कि सलमान को सजा सुनाने में कोर्ट को 20 साल लगे जो किसी सजा से कम नहीं है। सलमान के वकील उनकी सजा पर स्थगन के लिए भी अपनी बात कह रहे हैं।

सुनवाई के पहले सलमान की बहन अलवीरा भी उनके बॉडीगार्ड शेरा भी कोर्ट पहुंचे हैं। माना जा रहा है कि आज अरबाज और सोहेल खान भी जोधपुर पहुंच सकते हैं।

सुनवाई शुरू होने से पहले सलमान के वकील महेश बोड़ा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि हमें पूरी उम्मीद है कि सलमान को जमानत मिल जाएगी। सजा सुनाए जाने के बाद पहली अपील में वक्त लगता है और इसी आधार पर जमानत की मांग की जाएगी।

उन्होंने एक और बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि उन्हें इंटरनेट कॉल और एसएमएस के माध्यम से धमकियां मिली हैं।

खड़गे बोले- CJI दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग नहीं लाएगी कांग्रेस

गुरुवार को सेशन कोर्ट ने याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई के लिए कहा था जिसके बाद सलमान की रात जेल में गुजरी। सलमान के वकीलों ने गुरुवार को सजा सुनाए जाने के बाद भरसक कोशिश की लेकिन कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई शुक्रवार को करने की बात कही।

सीजेएम कोर्ट ने सलमान को 3 साल से ज्यादा कैद की सजा सुनाई है। ऐसे में उनके वकीलों ने सेशन कोर्ट में जमानत की अपील की है। सलमान की जमानत अर्जी पर कोर्ट शुक्रवार को फैसला करेगी। सजा के बाद सलमान की रात सलाखों के पीछे गुजरी और उन्होंने कुछ नहीं खाया।

अरबाज, सोहेल पहुंच सकते हैं जोधपुर

सलमान को सजा होने के बाद उनका परिवार मायूस है। गुरुवार को जहां सलमान की दोनों बहने अर्पिता और अलविरा उनके साथ थी वहीं शुक्रवार को जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान उनके दोनों भाई अरबाज और सोहेल जोधपुर पहुंच सकते हैं।

सीजेएम कोर्ट ने सुनाई है पांच साल की सजा

बता दें कि इससे पहले गुरुवार को जोधपुर की सीजेएम कोर्ट ने सलमान को कांकणी काला हिरण शिकार मामले में दोषी ठहराते हुए 5 साल की सजा सुनाई थी। इसके बाद उन्हें जोधपुर की ही सेंट्रेल जेल ले जाया गया जहां उनका मेडिकल हुआ और उन्हें जेल के बैरक नंबर 2 में रखा गया है। उन्हें कैदी नंबर 106 बनाया गया है।

You may also like

लापता जवान की निर्ममता से हत्या, शव के साथ बर्बरता, आॅख भी निकाली

दो दिन पहले बार्डर की सफाई दौरान पाकिस्तानी