अभी अभी: सलमान पहुंचे जेल कैदियों ने एेसे दिखाया अपना रंग

आज सबके चहेते सलमान खान काे लेकर हाेने जा रहा है बड़ा फैसला। जी हां, जानकारी के लिए बता दें कि दाे दशक पुराने हाे चुके काला हिरण के शिकार मामले पर आज जाेधपुर की अदालत अपना बड़ा फैसला सुनाने जा रही है। इसमें सलमान खान के साथ सोनाली बेंद्रे, तब्बू, नीलिमा कोठारी, सैफ अली खान भी शामिल हैं। 1998 में हुई इस घटना के संबंध में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने 28 मार्च को मुकदमे की सुनवाई पूरी करते हुए फैसला बाद में सुनाने की घोषणा की थी। अब देखना ये हाेगा कि ये फैसला सलमान के हक में जाता है की नही। 

बता दें कि मुंबई हवाई अड्डे से चार्टर्ड विमान से रवाना हुए सलमान खान जोधपुर पहुंच चुके हैं। इनके साथ इनकी दोनों बहन अलविरा अग्निहोत्री और अर्पिता खान शर्मा भी साथ जोधपुर में हैं। 

वहीं सैफ अली खान का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें मीडिया उनकी कार को घेरे हुए है। इनसे परेशान होकर सैफ अपने ड्राइवर पर गुस्सा निकालते हुए कहते है, शीशा ऊपर करो और रिवर्स कर लो वरना पड़ेगी एक। वहीं जानकार बताते हैं कि आज अगर सलमान खान के खिलाफ 3 साल की जेल का फैसला सजाया जाता है तो उन्हें उसी वक्त बेल मिल जाएगी, अगर उन्हें 5 साल की सजा होती है तो उन्हें कम से कम 1 दिन के लिए जेल में रहना पड़ सकता है। गौरतलब है कि 1 दिन के बाद ही शनिवार और रविवार है, संभव है कि उन्हें ये दोनों दिन भी जेल में बिताने पड़ सकते हैं। ऐसी स्थिति में उन्हें तीन दिन जेल में बिताने पड़ सकते हैं। 

इस बड़ी वजह से जेटली मीटिंग-बैठकों में भाग नहीं ले पाएंगे

इस घटना से आप अवगत ही हाेंगे बता दें कि ये घटना फिल्म ‘हम साथ साथ है’ की शूटिंग के दौरान दो अक्टूबर 1998 की है। राजश्री फिल्म्स की फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान सलमान खान के खिलाफ काले हिरण का शिकार करने का मामला दर्ज किया गया था। साथ ही इस केस में सलमान को उकसाने के लिए सैफ अली खान, नीलम, तब्बू और सोनाली बेंद्रे का नाम भी शामिल हैं। सलमान खान वन्यजीव संरक्षण कानून की धारा 51 और अन्य कलाकार वन्यजीव संरक्षण कानून की धारा 51 तथा भारतीय दंड संहिता की धारा 149 (गैरकानूनी जमावड़ा) के तहत आरोपों का सामना कर रहे हैं। 

इसके अलावा दो आैर अन्य आरोपी दुष्यंत सिंह और दिनेश सिंह भी इसमें शामिल हैं।  हिरण के शिकार के समय दुष्यंत सिंह कथित रूप से सलमान के साथ था जबकि दिनेश सिंह के बारे में कहा जाता है कि वह सलमान खान का सहायक है। जब काला हिरण पर गोलियां चलीं तो आवाज सुनकर ग्रामीण दौड़े आए, उन्होंने देखा कि सलमान खान जिप्सी चला रहे थे और हिरण के शव को छोड़कर तुरंत ही घटनास्थल से वे लोग फरार हो गये। 

सरकारी वकील भवानी सिंह भाटी ने कहा कि उस रात सभी कलाकार जिप्सी कार में थे, सलमान खान वाहन चला रहे थे। हिरणों का झुंड देखने पर उन्होंने गोली चलाई और उनमें से दो हिरण मार दिये थे। सरकारी वकील का कहना है कि जब लोगों ने उन्हें देखा और उनका पीछा किया तो ये कलाकर मृत हिरणों को मौके पर छोड़कर भाग खड़े हुए, उन्होंने कहा कि उन लोगों के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। 

इन आरोपों से इंकार करते हुए सलमान के वकील एच.एम. सारस्वत ने कहा कि अभियोजन पक्ष की कहानी में कई खामियां हैं। उन्होंने यह भी दलील दी कि अभियोजन यह साबित करने में भी विफल रहा है कि काले हिरण बंदूक की गोली से ही मारे गये थे और ऐसी स्थिति में इस तरह की जांच पर भरोसा नहीं किया जा सकता। लेकिन आज जाेधपुर की अदालत अपना फैसला किस के पक्ष में रखती है इसका इंतजार हर किसी काे है।  

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button