राहुल गांधी के सुरक्षाकर्मियों से बहस करना पड़ा महंगा, नौकरी से धोना पड़ा हाथ

नई दिल्‍ली। उत्तर प्रदेश के अमेठी के एक पुलिस कांस्टेबल को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी की सुरक्षा में तैनात  सुरक्षाकर्मियों से बहस करना काफी महंगा पढ़ जगाया है। इसके बदले में उसे न केवल अपनी मेडिकल जाँच करवानी पड़ी बल्कि उसे अस्थाई तौर पर नौकरी से हटा भी दिया गया है। 

दरअसल  कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी कल याने सोमवार (24 सितंबर) के दिन उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले के एक अतिथि गृह में ठहरे हुए थे। वहां उनकी उनकी सुरक्षा के लिए कुछ पुलिस कांस्टेबल्स को तैनात किया गया था। लेकिन इनमे से एक कांस्टेबल की राहुल की ही वीआईपी सुरक्षा में लगे  एसपीजी कर्मियों से बहस हो गई थी। इस बहस के बाद एसपीजी जवानों ने कांस्टेबल पर आरोप लगाया था कि उस वक्त वे नशे में थे। 

इसके बाद इस कांस्टेबल की चिकित्सकीय जाँच कराई गई थी जिसमे यह बात सामने आई थी कि वो नशे में नहीं था। हालाँकि उसे कुछ दिनों के लिए अस्थाई तौर पर ड्यूटी से हटा दिया गया है और उसकी जगह एक अन्य कांस्टेबल को तैनात कर दिया गया है। अमेठी के पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य के मुताबिक  वीआईपी की सुरक्षा में एसपीजी कर्मियों के सादी वर्दी में तैनात होने की वजह से कांस्टेबल को गलत फहमी हो गई थी जिस वजह यह बहस हुई थी। 

 

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बेटे को खोने वाली सपना हादसे के समय पति को मो‍बाइल पर दिखा रही थी लाइव समारोह

उत्‍तर प्रदेश और बिहार के कई दिहाड़ी मजदूर