इन 4 कारणों से हो सकती है डिप्रेशन की समस्या

डिप्रेशन होने की वजह कोई एक कारण नहीं है. फिर भी डिप्रेशन के कारणों में बायोकेमिकल, आनुवांशिकता, वातावरण और मनोवैज्ञानिक जैसी कई घटना शामिल होती है. शोध के अनुसार डिप्रेशन एक मस्तिष्क विकार है. ऐसा कहा जाता है कि एक उदास मन वास्तव में एक केमिकल असंतुलन का नतीजा है, लेकिन एक उदास मन निश्चित रूप से अधिक जटिल है. इसके लिए अन्य संभावित कारण हैं जिसमें कुछ सीधे मस्तिष्क से संबंधित हो सकते हैं. जबकि अन्य बाहरी घटनाएं हो सकती है जो प्रकृति में अस्थायी होती है. मस्तिष्क जांचने वाली तकनीक बताती है कि डिप्रेशन और तनाव से पीड़ित लोगों के दिमाग  उन लोगों से अलग होते हैं, जो इस बीमारी से पीड़ित नहीं होते हैं. इसके अलावा मस्तिष्क की कोशिकाएं जिन जरूरी न्यूरो ट्रांसमीटर केमिकल का उपयोग संवाद के लिए करती हैं, वह असंतुलित पाए जाते हैं. लेकिन यह ज्ञात नहीं हो पाता कि डिप्रेशन क्यों उत्पन्न हुआ है. तो चलिए हम बताते हैं कि डिप्रेशन किन-किन कारणों से होता है.

इन 4 कारणों से हो सकती है डिप्रेशन की समस्या

हार्मोनल परिवर्तन से होता डिप्रेशन
कुछ स्वास्थ्य स्थितियां ऐसी होती है जो मानव शरीर में हार्मोनल संतुलन को बदल सकती है और इससे उस व्यक्ति के मूड को प्रभावित कर सकता है. हाइपोथायराइड के बहुत मरीजों में डिप्रेशन होता है. यहां तक की युवावस्था में जो हार्मोनल परिवर्तन के दौरान भी डिप्रेशन हो सकता है. अगर इन स्थितियों में समय अच्छी तरह से इलाज किया जाए तो डिप्रेशन से छुटकारा मिल जाता है.

आंवला दिलाता है किडनी स्टोन की समस्या से छुटकारा

अनुवांशिक हो सकता है डिप्रेशन
अगर परिवार में डिप्रेशन की समस्या चलती आ रही है तो यह अनुवांशिक भी हो सकता है. हालांकि डिप्रेशन के शिकार वह लोग भी हो सकते हैं जिनेक परिवार का कोई सदस्य डिप्रेशन से पीड़ित नहीं हैं. अनुवांशिकता पर हुए शोध इस बात का इशारा करते हैं कि अनुवांशिकता अन्य घटकों के साथ जुड़कर डिप्रेशन के खतरे को और भी बढ़ा देते हैं.

जीवन की घटनाएं डिप्रेशन की बड़ी वजह
जीवन में कई ऐसे पड़ाव आते हैं जैसे मानसिक आघात, कटु अनुभव, सदमा, किसी करीबी रिश्तेदार की मृत्यु. एक तनावयुक्त संबंध या कोई तनावदायक स्थिति डिप्रेशन का कारण बन सकते हैं. इसके अलावा, तलाक, ब्रेकअप, या पूनर्विवाह जैसे अन्य घटनाओं से डिप्रेशन हो सकता है. यह भी संभव है कि जब कभी आप निराशा के बारे में सोचते हैं तो ऐसा हो सकता है.

मौसम भी है डिप्रेशन की वजह
डिप्रेशन कई बार मौसम से भी हो सकता है, ऐसा इसलिए कि दिन के समय मस्तिष्क के न्यरोट्रांसमीटर के उत्पादन को प्रभावित कर सकता है. इसलिए आपको गर्मी के महीनों के दौरान काफी सावधानियां बरतनी चाहिए. मैलेटोनिन और सेरोटोनिन जैसे न्यरोट्रांसमीटर मनुष्य की नींद औ जागने का चक्र, मूड को विनियमित करने में मदद करता है. सर्दियों के दिनों में दिन कम होते हैं और रातें अधिक होती हैं तो मैलेटोनिन के स्तर में वृद्धि हो सकती है. यह परिवर्तन डिप्रेशन का कारण बन सकता है.

कैसे डिप्रेशन से बचें
डिप्रेशन से बचने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करने और अच्छी तरह खाना खाने की जरूरत होती है. एक स्वस्थ्य जीवन का नेतृत्व करने के बाद यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आप डिप्रेशन के समय उससे लड़ सकते हैं, क्यों कि आप खराब जीवन शैली को आगे बढ़कर डिप्रेशन से नहीं लड़ सकते हैं.

Loading...

Check Also

तंदरुस्त रहना है तो पिएं ढेर सारा पानी, लेकिन सही तरीके से

तंदरुस्त रहना है तो पिएं ढेर सारा पानी, लेकिन सही तरीके से

पानी शरीर और बेहतर सेहत के लिए बहुत जरुरी होता है. इस बात को सभी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com