भारतीय मूल की प्रिंसिपल को हिजाब पहनने से रोक लगाने पर कहा गया ‘हिटलर’

ब्रिटेन में एक प्रमुख स्कूल की भारतीय मूल की प्रिंसिपल ने कम उम्र की छात्राओं के हिजाब पहनने पर रोक लगाने का प्रयास किया. इसके बाद उन्हें सोशल मीडिया पर हिटलर करार दिया गया है. पूर्वी लंदन के न्यूहम स्थित सेंट स्टीफंस स्कूल की प्रमुख शिक्षिका नीना लाल को जबर्दस्त आलोचना के बाद इस महीने के शुरू में अपना फैसला बदलना पड़ा था. उन्होंने 8 साल से कम उम्र की लड़कियों के हिजाब पहनने पर रोक लगाई थी.

इस सप्ताहांत सोशल मीडिया पर प्रसारित हुए एक वीडियो में नीना को जर्मनी के तानाशाह एडोल्फ हिटलर और स्कूल के संचालन मंडल के पूर्व अध्यक्ष को रूसी तानाशाह हिटलर और प्रबंधन के अन्य सदस्यों को हिटलर के सहायकों के तौर पर पेश किया गया है. स्कूल के संचालन मंडल के एक सदस्य ने ‘संडे टाइम्स’ से कहा, ‘यह बहुत अच्छा स्कूल है. नीना बहुत अच्छी मुख्य शिक्षिका हैं.’ 

अमेरिका: पेंसिल्वेनिया में गोलीबारी से चार लोगों की मौत, हमलावर घायल

सोमवार को माता-पिता और स्कूल प्रबंधन के बीच हुई बैठक में लेबर पार्टी के स्थानीय सांसद स्टीफन टिम्स ने भी शिरकत की. इसमें नीना को माफी मांगने के लिए बाध्य किया गया. उन्होंने कम उम्र की छात्राओं के हिजाब पहनने पर रोक लने के संचालन मंडल द्वारा पहले मंजूर किए गए फैसले को बदलने की पुष्टि की है.

स्कूल में अधिकतर छात्र, भारत, पाकिस्तान या बांग्लादेश की पृष्ठभूमि के हैं. स्कूल ने कम उम्र के विद्यार्थियों के लिए हिजाब पहनने और धार्मिक उपवास के मुद्दे पर ब्रिटेन सरकार से स्पष्ट दिशा-निर्देश की मांग थी.
 
 
Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button