PM मोदी का लोहिया की जयंती पर समाजवादियों पर तंज, अखिलेश ने किया पलटवार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्लॉग को ट्वीट कर समाजवादी नेता राम मनोहर लोहिया की जयंती पर उन्हें याद करते हुए कांग्रेस और समाजवादी दलों पर निशाना साधते हुए कहा है कि जिस गैर-कांग्रेसवाद के लिए लोहिया जीवन भर लड़ते रहे, उसके साथ ही उन्होंने महामिलावटी गठबंधन कर लिया है। दूसरी ओर, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष यादव ने प्रधानमंत्री की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए कहा कि हमें राष्ट्रवाद के लिए भाजपा से सर्टिफिकेट या लेक्चर की जरूरत नहीं है।
प्रधानमंत्री मोदी ने लोहिया का जिक्र करते हुए समाजवादी दलों पर तीखा वार करते हुए कहा था कि आज 130 करोड़ भारतीयों के सामने यह सवाल मुंह बाए खड़ा है कि जिन लोगों ने डॉ. लोहिया तक से विश्वासघात किया, उनसे हम देश सेवा की उम्मीद कैसे कर सकते हैं? जाहिर है, जिन लोगों ने डॉ. लोहिया के सिद्धांतों से छल किया है, वे लोग हमेशा की तरह देशवासियों से भी छल करेंगे।

प्रधानमंत्री ने ओडिशा के वरिष्ठ समाजवादी नेता सुरेन्द्रनाथ द्विवेदी की एक टिप्पणी का जिक्र करते हुए लिखा कि डॉ. लोहिया अंग्रेजों के शासनकाल में जितनी बार जेल गए। इससे कहीं अधिक बार उन्हें कांग्रेस की सरकारों ने जेल भेजा। आज उसी कांग्रेस के साथ तथाकथित लोहियावादी पार्टियां अवसरवादी महामिलावटी गठबंधन बनाने को बेचैन हैं। यह विडंबना हास्यास्पद भी है और निंदनीय भी है।
इस पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव प्रधानमंत्री पर पलटवार करते हुए कहा कि हमें राष्ट्रवाद के लिए बीजेपी से सर्टिफिकेट या लेक्चर की आवश्यकता नहीं है। अखिलेश ने बताया कि पीएम और बीजेपी को समाजवाद और सेकुलरिज्म से कोई लेना-देना नहीं है। इन्हें जब भी मौका मिला है, उन्होंने वादों के खिलाफ काम किया है।
यह सरकार झूठ के नाम से जानी जाएगी। लोहिया ने जाति तोड़ो आंदोलन चलाया था, लेकिन भाजपा ने देश में जातिवाद का जहर फैलाने का काम किया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button