पाक ने फायरिंग को लेकर भारतीय उप-उच्चायुक्त को किया तलब

पाकिस्तान ने शनिवार को इस महीने पांचवीं बार भारतीय उप-उच्चायुक्त जे पी सिंह को इस्लामाबाद में तलब किया और नियंत्रण रेखा पर भारतीय बलों की कथित गोलीबारी की निंदा की.

पाकिस्तान विदेश कार्यालय ने बताया कि महानिदेशक (एसए एंड सार्क) मोहम्मद फैसल ने सिंह को निकियाल सेक्टर में गत 23 फरवरी को भारतीय बलों द्वारा बिना किसी उकसावे के किए गए संघर्षविराम उल्लंघन को लेकर तलब किया.

फैसल ने कहा कि गोलीबारी में थूर्तिनार गांव में एक व्यक्ति की मौत हो गई और तीन अन्य लोग घायल हो गए. यह गांव नियंत्रण रेखा से करीब 1200 मीटर की दूरी पर है.

अभी-अभी: अमेरिका ने उत्तर कोरिया पर लगाया अब तक का सबसे बड़ा प्रतिबंध

विदेश कार्यालय ने इससे पहले 5, 15, 20 और 22 फरवरी को भारत के उप उच्चायुक्त को तलब किया था. उन्होंने दावा किया, भारत की ओर से संघर्षविराम उल्लंघन में अभूतपूर्व वृद्धि 2017 से जारी है जब भारतीय बलों ने 1970 से अधिक बार संघर्षविराम उल्लंघन किया. बकौल फैसल, भारत की तरफ से संघर्षविराम उल्लंघन क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा है और यह रणनीतिक तौर पर गलत है.

इधर एक भारतीय पुलिस अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा से लगे गांवों पर मोर्टार से गोले दागे.एक भारतीय पुलिस अधिकारी ने कहा, पाकिस्तानी सैनिकों ने शाम सवा छह बजे के करीब नौशेरा सेक्टर के लाम क्षेत्र में सीमा पर मोर्टार और छोटे हथियारों से गोले दागे. उन्होंने बताया कि भारतीय सैनिकों ने जवाबी कार्रवाई की और 15 मिनट तक दोनों तरफ से गोलीबारी चली. पाकिस्तानी गोलीबारी में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

You may also like

पाक ने की वर्ल्ड बैंक से शिकायत, कहा सिंधु जल संधि का उल्लंघन कर रहा भारत

पाकिस्तान के संयुक्त राष्ट्र मिशन के एक बयान