भारत में एक बार फिर समुद्री रास्ते से घुसने की फिराक में आतंकी, जारी हुआ अलर्ट

गोवा में मछली पकडऩे के जहाज से आतंकवादियों के पहुंचने की आशंका से जुड़ी खुफिया सूचना मिलने के हड़कंप मच गया है जिसके बाद प्रशासन ने राज्य में समुद्र के तट पर सभी जहाजों और कैसिनो को आज अलर्ट जारी कर दिया गया।  माना जा रहा है कि गोवा के समुद्री रास्ते से आतंकी भारत में प्रवेश कर सकते हैं। इस खुफिया जानकारी के बाद राज्य सरकार ने सभी जहाजों और कसीनों को चेतावनी जारी की है। 

 नौकाओं को कर दिया गया अलर्ट

राज्य के बंदगाह मंत्री जयेश सलगांवकर ने बताया कि भारतीय तटरक्षक बल ने पश्चिमी तट पर आतंकवादी हमले की आशंका के बारे में खुफिया सूचना साझा की है, जिसके बाद उनके विभाग ने समुद्र के तट पर स्थित सभी कैसिनो, वॉटर स्पोर्ट संचालकों और नौकाओं को अलर्ट कर दिया है।  सलगांवकर ने कहा, ‘अलर्ट केवल गोवा के लिए ही नहीं है। यह मुंबई या गुजरात तट भी हो सकता है, लेकिन हमने जहाजों और संबंधित एजेंसियों को अलर्ट कर दिया है।’ मंत्री ने कहा, ‘पाकिस्तान द्वारा जब्त की गई मछली पकडऩे की नौका को छोड़ दिया गया है, और ऐसी खुफिया सूचना है कि वापसी में इसके जरिए आतंकवादी आ सकते हैं।’ राज्य के पोत विभाग ने तट पर स्थित कैसिनो और क्रूज जहाजों को खुफिया सूचना के मद्देनजर अलर्ट रहने के लिए कहा है। 

पीएम मोदी की रैली में जाकर कुर्सियां फेंको, जिग्नेश ने की अपील

भारतीय तट पर पहुंच सकते हैं विरोधी तत्व 

कैप्टन ऑफ पोट्र्स जेम्स ब्रेगांजा ने गोवा के पर्यटन विभाग और सभी वॉटर स्पोट्र्स संचालकों, कैसिनो और क्रूज जहाजों को भेजे संदेश में कहा, ‘जिला तटरक्षक बल से खुफिया सूचना मिली है कि राष्ट्र विरोधी तत्व कराची में पकड़ी गई एक भारतीय नौका में सवार हुए हैं और वह भारतीय तट पर पहुंच सकते हैं तथा उनके अहम प्रतिष्ठानों पर हमला करने की आशंका है।’ संदेश में कहा गया है, ‘सभी जहाज सुरक्षा बढ़ा दें और किसी भी संदिग्ध या अप्रिय गतिविधि के बारे में संबंधित अधिकारियों को सूचित करें।’ जब ब्रेगांजा से संपर्क किया गया तो उन्होंने सभी संबंधित लोगों को आज पत्र भेजने की पुष्टि की। 
 

Loading...

Check Also

भारत को मिलने वाले राफेल विमान का FIRST LOOK आया सामने...

भारत को मिलने वाले राफेल विमान का FIRST LOOK आया सामने…

भारत को मिलने वाले जिस राफेल विमान को लेकर फ्रांस तक घमासान मचा हुआ है, उसने …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com