हिंदू लड़की से प्यार करने पर परिवार ने ही ले ली अपने बेटे की जान

मंगलवार की रात को एक हिंदू महिला के पैरेंट्स ने कथित तौर पर अपनी बेटी के मुस्लिम दोस्त को पीटकर अधमरा कर दिया। जिसकी वजह से अस्पताल में उसकी मौत हो गई। यह राजस्थान में सांप्रदायिक हिंसा की दूसरी घटना है। इससे पहले दिल्ली में इस तरह की घटना घट चुकी है। जिसमें एक हिंदू लड़के को उसकी मुस्लिम गर्लफ्रेंड के पैरेंट्स ने मार दिया था। पुलिस ने इस बात की पुष्टि की है कि शख्स पर महिला के साथ संबंध होने की वजह से हमला किया गया था।

 

हिंदू लड़की से प्यार करने पर परिवार ने ही ले ली अपने बेटे की जान22 साल का सैफ अली फलों के बाजार में फलों को तोला करता था और वह महिला से मिलने के लिए मंगलवार की रात 9 बजे रामपुरा बस्ती गया था। बीकानेर पुलिस अधीक्षक सवाईं सिंह गोदारा ने कहा- महिला के परिवार वालों ने सैफ को मारने की योजना बनाई। जिला पुलिस प्रमुख ने कहा कि महिला का परिवार कार में बिठाकर अली को करनी इंडस्ट्रियल क्षेत्र लेकर गया। एक प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार महिला के परिवार ने अली की दोनों टांगें तोड़ दीं और फिर उसे गंदे पानी के तालाब में फेंक दिया।  

पुलिस ने बताया कि उनकी टीम मौके पर पहुंची और सैफ को बचाकर उसे अस्पताल लेकर गई। उसके पैर बुरी तरह से टूट चुके थे। डॉक्टर्स ने उसका इलाज किया लेकिन बुधवार सुबह 3.30 बजे उसकी मौत हो गई। गोदारा का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत की असल वजह का पता लगेगा। महिला की कजिन बंटी, शिव माली, राजा सोनार, गोपाल खाटी, बबलू माली और दो लोगों के खिलाफ हत्या, हत्या के लिए अपहरण, गलत तरीके से नियंत्रण, स्वेच्छा से चोट लगाना, सबूत मिटाना और दंगे भड़काने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस का कहना है कि बंटी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

हर दिन बॉयफ्रेंड को भेजती थी रूममेट्स की NUDE तस्वीरें, फिर एक दिन..

दुनियाभर में अपराध के मामले बढ़ते जा रहे