सुस्त मंत्रियों पर पीएम मोदी की नजर, उठाएगे ये बड़ा कदम…

आदर्श ग्राम योजना प्रधानमंत्री की फ्लैगशिप योजना है और प्रधानमंत्री खुद इस योजना में बहुत दिलचस्पी दिखा रहे हैं। देश-विदेश के दौरों पर व्यस्त होने के बावजूद प्रधानमंत्री ने अपने ससंदीय क्षेत्र वाराणसी में तीनों चरणों में गांव गोद लिए हैं और वह अपनी इस महत्वाकांक्षी योजना की रिपोर्ट पी.एम.ओ. के जरिए मंगवा रहे हैं। अगले लोकसभा चुनाव में मंत्रियों और भाजपा सांसदों को टिकट आबंटन के पैमाने में इस योजना की सफलता भी एक पैमाना होगा। यदि मंत्री और सांसद प्रधानमंत्री की इस योजना को ही सही ढंग से लागू न करवा पाए तो ऐसे मंत्रियों और सांसदों की टिकट पर भी तलवार लटकने की संभावना है।

महात्मा गांधी की 70वीं पुण्यतिथि पर पीएम ने दी श्रद्धांजलि, राहुल भी पहुंचे राजघाट

वैसे भी भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने अपने सांसदों व मंत्रियों की जमीनी रिपोर्ट मंगवानी शुरू कर दी है और इस जमीनी रिपोर्ट में मंत्रियों व सांसदों की अपने क्षेत्र में सक्रियता के अलावा सांसदों का केंद्रीय योजनाओं को लागू करने में सहयोग को भी गंभीरता से लिया जा रहा है। माना जा रहा है कि अमित शाह ने जिस प्रकार राज्य विधानसभाओं व दिल्ली नगर निगम के चुनावों में विधायकों व पार्षदों के प्रति जनता का गुस्सा कम करने के लिए टिकट काटे हैं, वैसा ही फार्मूला मंत्रियों व सांसदों पर भी लागू हो सकता है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button