मध्य प्रदेश पुलिस का सिंघम अवतार, मनचलों की आई शामत

- in अपराध

मध्य प्रदेश की पुलिस इन दिनों पूरी तरह सिंघम अवतार में है. पूरे सूबे में मनचलों और गुंडों की शामत आई हुई है. पुलिसवाले इन्हें ढूंढ-ढूंढकर खदेड़ रहे हैं. सड़कों पर जुलूस निकाल रहे हैं. लतागार दो दिनों से सूबे की पुलिस बदमाशों पर टूट पड़ी है. इसका नतीजा ये हुआ सड़कछाप गुंडे बाजार से गायब हो गए हैं.

गुंडों और मनचलों का जुलूस निकालने की जो परंपरा शुरु की गई है, उसे मध्य प्रदेश के कई जिलों में दिल खोलकर अपना लिया गया. अपनाएं भी क्यों ना, सीएम साहब का हुक्म बजाने का मेडल मिलना तो तय ही है, आम जनता की वाहवाही मिलेगी सो अलग. यही वजह है कि मनचलों के जुलूस निकलने लगे हैं.

रेयान स्कूल मामले में गुड़गांव पुलिस का घिनौना चेहरा एक बार फिर हुआ बेनकाब

भोपाल से आदेश निकला तो सीहोर की पुलिस की बाहें फड़क गईं. सारे खाकीधारियों ने सिंघम अवतार ले लिया और मनचलों की धरपकड़ शुरू हो गई. जो पकड़े गए उन्हें पूरे शहर में घुमया गया. लट्ठ तो बजे ही. उठक-बैठक अलग से. रायसेन में लड़की ने थानेदार से शिकायत कि तो खाकी वर्दी का खून उबाल मारने लगा.

मनचले पर एक के बाद एक लाफे चलने लगे. इतने पर भी सजा कहां कम थी. थानेदार ने पूरे 100 बार उठक बैठक का फरमान सुना दिया. हरदा जिले में पुलिस पिछले तीन दिनों से मनचलों के खिलाफ मुहिम छेड रखी है. बाजारों में गश्त तेज है. जरा सा शक हुआ नहीं कि लट्ठ बजने लगे. मनचलों को गाड़ी में भरने लगे.

मनचलों पर लगाम लगी तो महिलाओ ने पुलिस का तिलक लगाएं. उनको गुलाब के फूल भेंट किया. थाना प्रभारी पंकज त्यागी ने बताया कि पुलिस द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए अभियान चला जा रहा है. इसी दौरान मार्केट के पास कुछ महिलाएं बहने और बच्चियां आई और तिलक लगाकर गुलाब को फूल देकर पुलिस के कार्यों की सराहना की है.

उन्होंने बताया कि अभी तक हमने 45 व्यक्तियों को थाने लाकर पूछताछ की और 15 से अधिक लोगों पर कार्रवाई की गई है. कुछ लोगों को जिला बदर और अन्य धाराओं में पकड़कर कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के फरमान के बाद मनचलो पर एक्शन मे आई पुलिस ने कई मनचलों का जुलूस निकाला है.

दरअसल दो दिन पहले ही शिवराज सिंह चौहान ने सभी जिलों के एसपी और डीएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी. इसमें मुख्यमंत्री ने इंदौर और भोपाल मे चले गुंडा अभियान का उदाहरण देकर सभी अफसरों को 7 दिनों के अंदर मनचलों पर लगाम लगाने का अल्टीमेटम दिया था. मुख्यमंत्री ने ही हरी झंडी दे दी तो फिर कोतवाल साहब को किसका डर.

You may also like

तो इसलिए पति ने पत्नी से कह दी अपने पिता से संबंध बनाने की बात, सुनकर आ जाएंगे आंखों में आंसू

महिला का कहना है कि ससुर के साथ