NEET और JEE की परीक्षाओं को लेकर क्या बोली प्रियंका गांधी

जुबिली न्यूज़ डेस्क
नीट और जेईई मेंस की परीक्षा को लेकर सियासत तेज हो गई है। इन परीक्षाओं को लेकर कई दल सरकार को घेर रहे हैं। साथ ही इसको लेकर परीक्षा रोकने की भी मांग कर रहे हैं। बता दें कि उच्चतम न्यायालय ने इस परीक्षा को लेकर हरी झंडी दे दी है लेकिन छात्र कोरोना संकट की वजह से परीक्षा को स्थगित करने की मांग कर रहे हैं।
यही वजह है कि अब कई सियासी दल सरकार के इस फैसले पर विचार करने का आग्रह कर रहे हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रविवार को एक ट्वीट कर इस पर सरकार को सोचने के लिए कहा।

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया कि, कोरोना को लेकर देश में स्थिति अभी सामान्य नहीं हुई। ऐसे में अगर NEET और JEE परीक्षा देने वाले छात्र-छात्राओं व उनके अभिभावकों ने कुछ चिंताएं जाहिर की हैं तो भारत सरकार व टेस्ट कराने वाली संस्थाओं को उस पर सही से सोच विचार करना चाहिए। इसके साथ ही प्रियंका ने सोशल मीडिया पर इसे सत्याग्रह अभियान का नाम भी दिया है।

कोरोना को लेकर देश में परिस्थितियां अभी सामान्य नहीं हुईं हैं। ऐसे में अगर NEET और JEE परीक्षा देने वाले छात्र-छात्राओं व उनके अभिभावकों ने कुछ चिंताएं जाहिर की हैं तो भारत सरकार व टेस्ट कराने वाली संस्थाओं को उस पर सही से सोच विचार करना चाहिए#SATYAGRAH_AgainstExamsInCovid
— Priyanka Gandhi Vadra (@priyankagandhi) August 23, 2020
प्रियंका गाँधी से पहले राहुल गांधी भी इस परीक्षा को लेकर मांग उठा चुके हैं। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि, आज हमारे लाखों छात्र सरकार से कुछ कह रहे हैं। NEET, JEE परीक्षा के बारे में उनकी बात सुनी जानी चाहिए साथ ही सरकार को एक सार्थक हल निकालना चाहिए। केंद्र सरकार को NEET, JEE परीक्षा को लेकर छात्रों के मन की बात सुननी चाहिए और एक सार्थक समाधान निकाला जाना चाहिए।

आज हमारे लाखों छात्र सरकार से कुछ कह रहे हैं। NEET, JEE परीक्षा के बारे में उनकी बात सुनी जानी चाहिए और सरकार को एक सार्थक हल निकालना चाहिए।
GOI must listen to the #StudentsKeMannKiBaat about NEET, JEE exams and arrive at an acceptable solution.
— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) August 23, 2020
बता दें कि इन परीक्षाओं को लेकर 25 अगस्त के बाद दो मीटिंग होनी है। इस मीटिंग को शिक्षा मंत्री आयोजित करेंगे। ऐसा भी हो सकता है कि परीक्षा को स्थगित कर दिया जाये। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए ये फैसला लिया जा सकता है। हालांकि, नेशनल टेस्ट‍िंग एजेंसी (NTA) ने परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों की लिस्ट और जरूरी गाइडलाइन जारी कर दी है।
ये भी पढ़े : अब 12 भाषाओं में होगी ‘कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट’
ये भी पढ़े : NEET और JEE Main परीक्षा के लिए SC ने दिया ये फैसला

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button