Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कैराना लोकसभा उपचुनाव में पहले दो घंटे में करीब 12 प्रतिशत मतदान

कैराना लोकसभा उपचुनाव में पहले दो घंटे में करीब 12 प्रतिशत मतदान

शामली। भारतीय जनता पार्टी के लिए नाक का सवाल बने कैराना लोकसभा उपचुनाव में पहले दो घंटे में मतदान की गति धीमी रही। लोग घरों से निकलकर समूह में मतदान केंद्र तक पहुंचे हैं। सात बजे से शुरू हुआ मतदान का क्रम शाम पांच बजे तक चलेगा। पहले दो घंटे में करीब 12 प्रतिशत मतदान हुआ।कैराना लोकसभा उपचुनाव में पहले दो घंटे में करीब 12 प्रतिशत मतदान

कैराना लोकसभा क्षेत्र (02) में भारतीय जनता पार्टी की मृगांका सिंह व राष्ट्रीय लोकदल की तबस्सुम हसन सहित 13 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। यहां पर कुल 1609628 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे, जिसमें 873120 पुरुष, 736431 महिलाएं और 77 तृतीय लिंग के मतदाता हैं। कैराना में तीन महिला प्रत्याशी चुनाव लड़ रही हैं।

सहारनपुर में  मतदान के शुरुआती दौर में विभिन्न पोलिंग बूथों पर ईवीएम खराब होने के कारण मतदान प्रभावित रहा पोलिंग अधिकारियों को नई ईवीएम मशीन मंगा कर व्यवस्था सुचारू करनी पड़ी। अधिकतर बूथ पर धीमी गति से मतदान चल रहा है। प्रशासन की टीम ईवीएम मशीनों की उपलब्धता के लिए भागदौड़ कर रही है। विधानसभा के गंगोह में शांतिपूर्ण मतदान शुरू।

नानौता के किसान सेवा इंटर कॉलेज में बूथ नंबर 315 की ईवीएम मशीन खराब होने से मतदान रुका। देहात क्षेत्र ग्राम उममेदगढ व बालू में समय से मतदान आरम्भ हालांकि अभी लम्बी लाइन नहीं लगी है। तीतरो के बूथ न 281 पर मशीन में खराबी के कारण मतदान शुरु नहीं हुआ। ग्राम पंचायत साँगाठेड़ा में लंबी होने लगी लाइन। ग्राम मछरौली में वोटर द्वारा पोलिंग बूथ तक ले जा रहे मोबाइल को देखकर दरोगा भड़क गया और वोटर को तीन चार थप्पड़ रसीद कर दिए। जिससे पूरे गांव ने चुनाव का बहिष्कार कर दिया है।

पुलिस प्रशासन किसी को भी बिना मतदाता पर्ची व आधार कार्ड के बिना अंदर नही जाने दे रहा है। मोबाइल पूरी तरह वर्जित । सभी पोलिंग बूथ पर सेक्टर मैजिस्ट्रेट जिला विकास अधिकारी मंशा राम यादव ने मोबाइल फोन ले जाना किया प्रतिबंधित तलाशी लेकर मतदाताओं को जाने दिया जा रहा है। ग्राम पंचायत पीरमजरा में अभी तक सबसे धीमा मतदान रहा है। जिसमें 11 32 वोट में से मात्र 87 वोट ही पड़े हैं पोलिंग बूथ पर भीड ना के बराबर ही है। नकुड नगर के बूथ नंबर 309 तथा 304 की ईवीएम सुबह से काम नहीं कर रही है।

ईवीएम में वीवीपैट का प्रयोग

उपचुनाव में पारदर्शिता के लिए 2651 ईवीएम कंट्रोल यूनिट, 2651 बैलेट यूनिट व 2596 वीवी पैट तैयार किए गए हैं। सभी मतदेय स्थलों पर वीवीपैट लगाए जाएंगे। वीवीपैट से मतदाता यह सुनिश्चित कर सकेंगे कि उन्होंने जिस उम्मीदवार को अपना वोट दिया है उसे ही मिला है। मतदान के बाद मशीन के डिस्पले और पर्ची पर सात सेकेंड तक उम्मीदवार की क्रम संख्या, नाम और चुनाव दिखाई देगा। इसके बाद पर्ची स्वत: कटकर ड्रॉप बाक्स में चली जाएगी।

आयोग ने डीएम से मांगी रिपोर्ट

निर्वाचन आयोग ने कैराना उपचुनाव में भाजपा की ओर से की गई शिकायत का संज्ञान लेते हुए शामली के जिलाधिकारी से रिपोर्ट मांगी है। भाजपा ने प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू से जमीयत उलमा-ए-हिंद के मौलाना हमीद सिद्दीकी के खिलाफ चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने पर एफआइआर दर्ज कर कानूनी कार्यवाही के लिए ज्ञापन सौंपा था। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को भेजे गए शिकायती पत्र में कहा कि कैराना उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह के खिलाफ विपक्ष की प्रत्याशी तबस्सुम हसन मैदान में हैं।

धर्म के नाम पर वोट मांगने का आरोप

जमीयत उलमा-ए-हिंद के मौलाना ने मुसलमानों से भाजपा के खिलाफ मतदान की अपील की। राठौर ने आयोग को मौलाना के बयान का वीडियो भी सौंपा है। राठौर का आरोप है कि मौलाना का बयान आदर्श चुनाव संहिता का उल्लंघन है तथा सांप्रदायिक सौहार्द बिगाडऩे वाला है। मौलाना ने मुसलमानों से भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ मतदान की अपील करते हुए लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम व आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन कर जाति व धर्म के नाम पर वोट मांगने तथा अपील करने का दंडनीय अपराध किया है।

पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दामों पर सीएम योगी ने दिया बड़ा बयान…

सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद

सुरक्षा व्यवस्था को चाकचौबंद करने के लिए 53 कंपनी अद्र्धसैनिक बल और दस कंपनी पीएसी तैनात की गई है। जिन मतदेय स्थलों पर मुस्लिम महिला मतदाताओं की संख्या ज्यादा होगी वहां अतिरिक्त महिला मतदान कर्मी और महिला कांस्टेबल की तैनाती की गई है। संवेदनशील बूथों पर कड़ी निगाह रखने के लिए 184 बूथों पर वेब कास्टिंग भी कराई जाएगी। इसके साथ 546 भारी वाहन व 623 हल्के वाहन और 10596 मतदान कर्मी लगाये गए हैं। इसके अलावा 22 जोनल मजिस्ट्रेट, 169 सेक्टर मजिस्ट्रेट, पांच स्टैटिक मजिस्टे्रट और 335 माइक्रो आब्जर्वर भी तैनात हैं। 

Loading...

Check Also

कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा- सुप्रीम कोर्ट के जज को भी पता अयोध्या ही श्रीराम की जन्मस्थली

कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा- सुप्रीम कोर्ट के जज को भी पता अयोध्या ही श्रीराम की जन्मस्थली

अयोध्या में भगवान राम के मंदिर निर्माण को लेकर बढ़ी हुंकार के बीच योगी आदित्यनाथ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com