Home > जीवनशैली > जानें अश्वगंधा के फायदे

जानें अश्वगंधा के फायदे

अश्वगंधा आयुर्वेद की महत्वपूर्ण जड़ी बूटियों में से एक है जिसका इस्तेमाल कई सदियों से होता आ रहा है। संक्रमण जैसी समस्यायों से लेकर कमजोरी तक सभी को यह दूर करने की क्षमता रखता है। अश्वगंधा ही नहीं अपितु उसके पौधे में भी कई गुण पाए जाते है। जो बहुत सी समस्यायों के इलाज में प्रयोग किया जाता है।

अश्वगंधा का मतलब होता है घोड़े की गंध। और इस औषधि का नाम ये इसीलिए पड़ा क्योंकि इसकी जड़ों में से घोड़े के पसीने जैसी गंध आती है। पहले के समय में केवल भारत में ही इसका प्रयोग किया जाता था पर आजकल पुरे विश्व में इसका इस्तेमाल होने लगा है । इसके फायदों को देखते हुए इसका इस्तेमाल बड़े स्तर पर किया जाने लगा है। विशेष रूप से वजन बढाने और हाइट बढाने के लिए। इसके साथ यह  शारीरिक कमजोरी और स्टेमिना को भी बढाने का काम करता है।  इसका सेवन करने से शरीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक लाभ भी होते है। लेकिन गलत तरीके और अधिक मात्रा में सेवन करने से यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी हो सकता है।

अश्वगंधा के फायदे :-

1. मधुमेह में लाभकारी :

मशुमेह की समस्या के लिए इस औषधि का प्रयोग पिछले काफी समय से किया जाता रहा है। शोध के अनुसार, चार सप्ताह तक अश्वगंधा का सेवन करें से ब्लड में शुगर की मात्रा में कमी आती है विशेषकर व्रत के दिन और खाना खाने के बाद।

2. थायराइड की समस्या :

अश्वगंधा थायराइड ग्रंथि को अच्छे से कार्य करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसकी जड़ों के नियमित सेवन से थायराइड हॉर्मोन का नियमित स्त्राव होने लगता है जिससे थायराइड की समस्या ठीक होने लगती है।

3. गठिया के इलाज के लिए :

इस जड़ी-बूटी को गठिया जैसी समस्या के लिए भी बहुत लाभकारी माना गया है। गठिया में इसका सेवन करने से सूजन और दर्द में कमी आती है। साथ ही इसमें कई ऐसे गुण पाए जाते है जो गठिया की सूजन को पूरी तरह के खत्म करने में भी मदद करते है।

4. कैंसर में फायदेमंद :

एक शोध में पाया गया की अश्वगंधा ट्यूमर सेल्स यानी कैंसर को ख़त्म करने में भी मदद करता है। और साथ ही कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को भी कम करता है।

5. हृदय के लिए :

अश्वगंधा में बहुत से गुण पाए जाते है जो सूजन कम करने के साथ-साथ हृदय संबंधित समस्यायों को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा यह हृदय की मांसपेशियों को मजबूत करके कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है। जिससे मोटापा नहीं बढ़ता।

6. मेटाबोलिज्म को बेहतर बनाए :

इसमें मौजूद एंटी ओक्सिडेंट चयापचय (मेटाबोलिज्म) को बेहतर बनाने में मदद करते है। यह एंटी ओक्सिडेंट्स चयापचय की प्रक्रिया के दौरान सभी टोक्सिंस और विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में मदद करते है।

7. घाव भरने में मददगार :

आज ही सीखिए शानदार पाकिस्तानी छोलिया मुर्ग बनाने की विधि

घाव के इलाज और उसे भरने के लिए भी यह बहुत फायदेमंद होता है। इसके लिए अश्वगंधा की जड़ों की पीसकर उसे पानी के साथ मिलाएं और एक पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को घाव पर लगाएं। कुछ ही दिनों में घाव ठीक हो जाएगा।

8. कमजोरी दूर करे :

अश्वगंधा का इस्तेमाल आजकल बड़े पैमाने पर सेक्स की कमजोरी दूर करने के लिए भी किया जाने लगा है। और औरतों में इसका इस्तेमाल प्रजनन क्षमता बढाने के लिए भी किया जाता है।

9. मांसपेशियों के लिए :

यह मांसपेशियों की शक्ति को बेहतर बनाने और कमजोरी दूर करने में मदद करता है। यह दिमाग और मांसपेशियों के मध्य समनव्य बनाकर उन्हें बेहतर कार्य करने के लिए सक्षम बनाता है।

10. बैक्टीरियल इंफेक्शन होने पर :

आयुर्वेद के अनुसार, अश्वगंधा बैक्टीरियल इंफेक्शन या संक्रमण को दूर करने में भी मदद करता है। एक शोध में पाया गया है अश्वगंधा में जीवाणुरोधी गुण पाए जाते है जो किसी भी तरह के बैक्टीरियल संक्रमण को दूर करने की क्षमता रखता है।

11. तनाव दूर करे :

अश्वगंधा में तनाव खत्म करने वाले गुण भी पाए जाते है। इसके सेवन से कुछ ही समय में तनाव जैसी गंभीर समस्या को दूर किया जा सकता है।

12. बालों के लिए लाभकारी :

इतना ही नहीं अश्वगंधा बालों के लिए भी बहुत लाभकारी होता है। यह शरीर में कोर्टिसोल के स्तर को कम करके बालों के झड़ने की समस्या को कम करता है। साथ ही बालों को असमय सफ़ेद होने से भी बचाता है। इसके सेवन से बालों को भी बेहतर बनाया जा सकता है।

13. त्वचा के लिए :

अश्वगंधा का प्रयोग रुखी त्वचा से लेकर, ऑयली स्किन को ठीक करने तक सभी तरह की समस्यायों को दूर करने के लिए किया जा सकता है। त्वचा को जवां बनाए रखने के लिए यह कोलोजन के उत्पादन को बढाता है जिससे स्किन में चमक और ग्लो आता है। इसके अलावा यह बढती उम्र की निशानियों को भी दूर करने में मदद करता है।

14. मोतियाबिंद की समस्या :

शोधो से पता चला है की, अश्वगंधा में मौजूद एंटी ओक्सिडेंट्स और अन्य तत्व मोतियाबिंद की समस्या को दूर करने में भी मदद करते है।

15. इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाए :

शोध में पाया गया है की अश्वगंधा का सेवन करने से प्रतिरक्षा प्रणाली यानी इम्यून सिस्टम स्वस्थ होता है। इसके सेवन से ब्लड में लाल रक्त कोशिकाओं में वृद्धि होती है जिससे एनीमिया जैसी समस्यायों से राहत मिलती है।

16. अन्य समस्यायों में भी फायदेमंद :

इतना ही नहीं यह ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करने में मदद करता है। साथ ही पेट को साफ़ करके पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है। इसके अलावा यह अनिद्रा की समस्या को भी दूर करने में मदद करता है। तो, ये थे आयुर्वेदिक औषधि अश्वगंधा के कुछ फायदे।

 
Loading...

Check Also

जानिए, शराब पीने के बाद शारीरिक सम्बन्ध बनाना क्‍यों होता है फायदेमंद...

जानिए, शराब पीने के बाद शारीरिक सम्बन्ध बनाना क्‍यों होता है फायदेमंद…

शराब का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है लेकिन सिमित मात्रा में …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com