जानिए किस मंदिर में मां के चरणों में 77.46 करोड़ रुपये नकद चढ़ा गए भक्त

झोलियां भरने वाली देवियों के चरणों में श्रद्धालु हर साल करोड़ों रुपये नकद और सोना-चांदी चढ़ा रहे हैं। हिमाचल के 5 प्रसिद्ध शक्तिपीठों ब्रजेश्वरी देवी कांगड़ा, ज्वालाजी, श्री नयनादेवी, मां चामुंडा देवी और छिन्नमस्तिका धाम चिंतपूर्णी में साल 2017 में 77 करोड़ 45 लाख 81 हजार 881 रुपये नकद चढ़ा गए।

जानिए किस मंदिर में मां के चरणों में 77.46 करोड़ रुपये नकद चढ़ा गए भक्तइसके अलावा 13 किलो 665 ग्राम सोना और 7 क्विंटल 41 किलो 283 ग्राम चांदी भेंट की गई। सोने की मौजूदा समय में कीमत चार करोड़ से ज्यादा जबकि चांदी की कीमत 2 करोड़ 76 लाख रुपये है। मंदिरों में श्रद्धालु दिल खोलकर चढ़ावा अर्पित कर रहे हैं। मंदिर न्यास ज्वालाजी को एक जनवरी 2017 से 31 दिसंबर 2017 तक 12 करोड़ 16 लाख 85 हजार 385 रुपये चढ़ावे के रूप में प्राप्त हुए।

एसडीएम ज्वालामुखी राकेश शर्मा ने बताया कि साल 2017 के दौरान श्रद्धालुओं की ओर से मां को दो किलो 108 ग्राम 990 मिलीग्राम सोना और 69 किलो 121 ग्राम चांदी चढ़ाई गई। मंदिर न्यास चिंतपूर्णी को एक साल में 34 करोड़ 72 लाख 91 हजार 297 रुपये नकदी प्राप्त हुई।

इन मंदिरों में इतना चढ़ावा प्राप्त हुआ

​चिंतपूर्णी मंदिर अधिकारी प्रेम लाल शर्मा ने बताया कि इस दौरान चार किलो 790 ग्राम 550 मिलीग्राम सोना और दो क्विंटल 91 किलो 645 ग्राम चांदी मंदिर न्यास को चढ़ावे के रूप में प्राप्त हुई है। चामुंडा देवी मंदिर न्यास को 2017 में चार करोड़ 53 लाख 625 रुपये चढ़ावे के रूप में प्राप्त हुए हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

मंदिर अधिकारी गृजेश चौहान ने बताया कि 568 ग्राम 83 मिलीग्राम सोना और 26 किलो 221 ग्राम चांदी श्रद्धालुओं ने मां को अर्पित की है। वहीं, कांगड़ा स्थित ब्रजेश्वरी देवी मंदिर में एक साल में श्रद्धालुओं ने मां के चरणों में पांच करोड़ 49 लाख एक हजार 262 रुपये का धन अर्पित किया है।

कार्यकारी मंदिर अधिकारी सुरेंद्र धीमान ने बताया कि वर्ष 2017 में एक किलो 49 ग्राम 500 मिलीग्राम सोना औ 74 किलो 828 ग्राम चांदी मंदिर न्यास को चढ़ावे के रूप में प्राप्त हुई है। मंदिर न्यास श्री नयना देवी को वर्ष 2017 में 20 करोड़ 54 लाख तीन हजार 312 रुपये चढ़ावे के रूप में प्राप्त हुए हैं।

मंदिर अधिकारी मदन चंदेल ने बताया कि 2017 में श्रद्धालुओं की ओर से पांच किलो 148 ग्राम 476 मिलीग्राम सोना और दो क्विंटल 79 किलो 468 ग्राम चांदी मां को अर्पित की गई। मंदिर अधिकारी ने बताया कि नयनादेवी न्यास के पास अब तक कुल एक क्विंटल 68 किलो सोना चढ़ावे के रूप में जमा हैं। 

चिंतपूर्णी में किया 300 ग्राम सोने का गुप्त दान

शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर के गर्भ गृह को सोने से सुसज्जित करने के लिए एक एनआरआई महिला श्रद्धालु ने 300 ग्राम सोना दान दिया। उन्होंने अपना नाम भी गुप्त रखा। मंदिर अधिकारी प्रेम लाल शर्मा ने बताया कि गर्भ गृह की पतरियों पर 30 साल बाद सोने का पानी चढ़ाया गया है।

इससे गर्भ गृह की सुंदरता को चार चांद लग गए हैं। कुछ महीने पहले ही श्रद्धालुओं ने गर्भ गृह की दीवारों पर चांदी की परत चढ़वाई। प्रेम लाल शर्मा ने बताया कि श्रद्धालुओं की माता रानी के प्रति अपार आस्था है। यहां कई देशी की मुद्रा भी दान में चढ़ाई जाती है जिसका इस्तेमाल न्यास जरूरतमंदों की सेवा में भी करता है।

 
 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button