दलीलें सुनने के बाद जज जोशी ने कही ये बड़ी बात, कहा- फैसला लंच के बाद

सलमान खान की जमानत पर सेशन कोर्ट में सुनवाई पूरी हो चुकी है और अब जज रवींद्र जोशी लंच के बाद यानी दोपहर 2 बजे के बाद कभी भी फैसला सुना सकते हैं. सलमान की जमानत के लिए आज फिर बहस हुई, लेकिन जज रवींद्र जोशी के हाव भाव बता रहे थे जैसे वह जल्दबाजी में फैसला सुनाने के मूड में नहीं हैं.

लेकिन सलमान के वकीलों ने जज रवींद्र जोशी से जिद की कि जो भी फैसला हो, वह लंच के बाद सुना दें. दलीलें पूरी होने के बाद जज रवींद्र जोशी ने थोड़ी देर के लिए आंखें मूंद लीं और शांत बने रहे. उन्होंने अपनी पेन डेस्क पर रखी दी, फिर वह थोड़ा सा मुस्कुराए और कहा कि वह लंच के बाद फैसला सुना देंगे.

बता दें कि बीती रात राजस्थान के 87 जजों का ट्रांसफर हुआ है, जिसमें रवींद्र कुमार जोशी भी शामिल हैं. रवींद्र कुमार जोशी का ट्रांसफर जोधपुर से सिरोही कर दिया गया है. इसके बाद अटकलें लगाई जा रही थीं कि रवींद्र कुमार जोशी शनिवार को सलमान की जमानत पर सुनवाई करेंगे या नहीं.

जज के तबादले के बाद भी सलमान खान की जमानत की सुनवाई पर नहीं पड़ेगा कोई असर

अमूमन न्यायिक प्रक्रिया में देखा गया है कि ट्रांसफर के बाद जज किसी मामले में फैसला सुनाने से बचते हैं, लेकिन यह पूरी तरह जज के स्वविवेक पर होता है. जज रवींद्र कुमार जोशी ने अपने विवेक का इस्तेमाल करते हुए ट्रांसफर होने के बावजूद सलमान की जमानत पर सुनवाई जारी रखने और फैसला सुनाने का फैसला किया.

गौरतलब है कि सलमान खान को 20 साल पुराने जोधपुर के कंकाणी में दो काले हिरणों के शिकार मामले में CJM कोर्ट ने 5 साल की सजा सुनाई है, जबकि वारदात वाले दिन सलमान के साथ रहे अन्य बॉलीवुड कलाकारों सैफ अली खान, तब्बू, नीलम कोठारी और सोनाली बेंद्रे को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया गया है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button