JEE Main 2017 की ओएमआर शीट और आंसर-की जारी

केंद्रीय माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा इंजीनियरिंग संस्‍थानों में प्रवेश के लिए ली गई जेईई मेन्‍स एग्‍जाम 2017 की स्कैन ओएमआर शीट और आधिकारिक आंसर-की जेईई मेन के ऑफिशियल वेब पोर्टल jeemain.nic.in पर जारी कर दी गई है. 

यह उन उम्मीदवारों के लिए है जो जेईई मेन 2017 पेन पेपर मोड एग्जाम में बैठे थे. यह परीक्षा 2 अप्रैल, 2017 को आयोजित हुई थी. छात्र 22 अप्रैल, 2017 रात 11.59 बजे तक आंसर-की में किसी उत्तर को लेकर चुनौती भी दे सकते हैं. आपत्ति केवल ऑनलाइन मोड से ही स्वीकार की जाएगी. प्रत्येक प्रश्न के लिए 1000  रुपये देने होंगे. फीस क्रेडिट/डेबिट कार्ड, पेटीएम और एसबीआई बड्डी के जरिए 22 अप्रैल, 2017 तक दी जा सकती है. यूं देखें आंसर-की

http://jeemain.nic.in पर जाएं और होम पेज पर दिख रहे View/Challenge- Answer Key of Paper 1 के ऑप्शन पर क्लिक करें. नई विंडो खुलने पर आपको एप्लीकेशन नंबर, जन्मतिथि, सिक्योरिटी पिन डालना होगा. 

jee main

JEE Main 2017: Jeemain.nic.in पर आंसर-की जारी

परीक्षा का परिणाम 27 अप्रैल को जारी किया जाएगा. 

गौरतलब है कि सीबीएसई हर वर्ष जेईई-मेन परीक्षा आयोजित करती है. यह आईआईटी, एनआईटी, आईआईआईटी, डीम्ड विश्वविद्यालयों और अन्य केंद्रीय वित्तपोषण वाले तकनीकी संस्थानों (सीएफटीआई) में दाखिले के लिए अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा है.

jee main 2017

JEE Main 2017 की ओएमआर व आंसर-की जारी

मेन्स के बाद कुछ कोचिंग संस्थानों ने जेईई मेन एग्जाम की गैर-आधिकारिक आंसर-की और अनुमानित कट-ऑफ भी जारी की. आकाश एजुकेशनल सर्विसेज प्रा. लि. के निदेशक आकाश चौधरी के मुताबिक कट-ऑफ 95 से 105 के बीच रहेगी. Toppr.com के वाइस प्रेजिडेंट (एजुकेशनल कंटेंट) के मुताबिक कट-ऑफ 97 से 102 के बीच रहेगी. 
जो उम्मीदवार कम्यूटर बेस्ड परीक्षा में बैठे हैं, उनके प्रश्न पत्र और मार्क्ड उत्तर उनको उनकी उनके रजिस्टर्ड ईमेल आईडी पर पहले ही भेजे जा चुके हैं इसलिए इन उम्मीदवारों से अंकित उत्तरों पर कोई आपत्ति स्वीकार नहीं की जाएगी. हालांकि ये उम्मीदवार भी ऑनलाइन आपत्ति दर्ज करा सकते हैं. लेकिन ऐसा करने से पहले उन्हें अपने प्रश्न पत्र के प्रश्नों और उत्तर विकल्पों के अनुक्रम का मिलान वेबासाइट पर मौजूद प्रश्न पत्र से करना होगा. 

3 घंटे की कंप्यूटर बेस्ड ऑनलाइन परीक्षा चार सत्रों में 8 और 9 अप्रैल को आयोजित हुई थी. परीक्षा भारत के 113 शहरों में और देश से बाहर नौ शहरों में आयोजित की गई. भारत के बाहर ये टेस्ट कोलंबो, काठमांडू, सिंगापुर, बहरीन, दुबई, मस्कट, रियाद, शारजाह, ढाका में हुई थी. 

jeenotice650

गौरतलब है कि इस साल से इंजीनियरिंग अंडर ग्रेजुएट कोर्सेज में दाखिले के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) में रैंकिंग निर्धारण में 12वीं कक्षा के अंक निर्धारक तत्व नहीं होंगे. यानी अगले वर्ष से जेईई रैकिंग में 12वीं कक्षा में आए नंबरों का कोई रोल नहीं होगा. 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button