Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर में देश का पहला पशु क्रूरता निवारण केंद्र शुरू

इंदौर में देश का पहला पशु क्रूरता निवारण केंद्र शुरू

इंदौर। विश्व घुमंतू पशु दिवस पर बुधवार को कनाड़िया थाने के पास पशु फ्रेंडली पुलिस थाना शुरू हुआ। इसमें पहला केस सागर चौहान का पहुंचा। उन्होंने बैंक अधिकारियों के खिलाफ शिकायत की। आरोप है कि बैंक अधिकारियों ने कुत्ते के तीन बच्चों को मारा और बाकि तीन को गायब करवा दिया। कनाड़िया पुलिस ने जीरो पर केस दर्ज कर मामला जांच के लिए खजराना पुलिस को सौंपा। एडीजी का दावा है यह देश का पहला पशु फ्रेंडली पुलिस थाना है।इंदौर में देश का पहला पशु क्रूरता निवारण केंद्र शुरू

इंदौर शहर की पुलिस ने पीपुल फॉर एनिमल संस्था की इंदौर यूनिट के साथ मिलकर पशु फ्रेंडली पुलिस थाने (पशु क्रूरता निवारण सहायता केंद्र) की शुरुआत की। इसे पुराने कनाड़िया थाने (नए कनाड़िया थाने के ठीक पास) में शुरू किया गया है। शाम 5 बजे एडीजी अजय शर्मा, डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र, एएसपी मनोज राय सहित अन्य अधिकारी थाने पर पहुंचे। एडीजी ने फीता काटा।

इस केंद्र के नोडल अधिकारी एएसपी राय होंगे। केंद्र का संचालन पीपुल फॉर एनिमल संस्था के सदस्य प्रियांशु जैन, शैलेंद्रसिंह चौहान करेंगे। तकनीकी मदद ज्ञानेंद्र पुरोहित व उनकी पत्नी मोनिका देंगे। डीआईजी ने बताया कि सिटीजन कॉप में भी पशुओं के लिए एप जोड़ा है। उसमें हेल्पलाइन नंबर 9479713971 भी दिया है। इसमें पशुओं पर होने वाले अत्याचार और परेशानी बता सकते हैं। सूचना देने वाले की जानकारी गोपनीय रखी जाएगी।

बनेंगे जानवरों की आवाज

एडीजी के मुताबिक जानवरों की ट्रैफिकिंग होती है। अत्याचार होते हैं। उनकी मदद के लिए रोटरी क्लब और अन्य एनजीओ आगे आते हैं। ऐसी स्थिति में हम उनकी आवाज बनेंगे। सभी एक होकर लड़ेंगे, तो उन्हें भी न्याय मिलेगा। पुरोहित ने बताया कि मूक-बधिर पुलिस सहायता केंद्र की तरह पशु फ्रेंडली थाना चलेगा। पहले तो संबंधित थाने पर शिकायत दर्ज करवाएंगे। नहीं होगी तो जीरो पर केस दर्ज करेंगे।

थाने पर ही पशुओं के लिए एक शेल्टर होम बनाया है जिसमें घायल या पीड़ित पशुओं को रखा जाएगा। इसके लिए इनरव्हील क्लब ऑफ इंदौर अपटाउन की अध्यक्ष रूपा माहेश्वरी ने केंद्र को दो कूलर भेजे। रोटरी क्लब ऑफ इंदौर मालविका की ओर से 20 किलो पेडिग्री भोजन दान किया गया। मूक-बधिर बच्चों ने पशुओं पर अत्याचार न करने का संदेश दिया।

Loading...

Check Also

पंचायत चुनावों के लिए 40 हजार सुरक्षाकर्मी तैयार...

पंचायत चुनावों के लिए 40 हजार सुरक्षाकर्मी तैयार…

आतंकियों की धमकियों और अलगाववादियों के चुनाव बहिष्कार के फरमान के बीच हो रहे पंचायत …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com