पूर्व जासूस को जहर देने के मामले में, रूस ने 23 ब्रिटिश राजनयिकों को निष्कासित किया

एक पूर्व जासूस को जहर देने के मामले में ब्रिटेन की ओर से रूस पर लगाए जा रहे आरोपों के बीच मॉस्को ने शनिवार को कहा कि वह 23 ब्रिटिश राजनयिकों को निष्कासित करेगा और एक ब्रिटिश वाणिज्य दूतावास बंद करेगा. रूस ने ब्रिटिश राजदूत लॉरी ब्रिस्टॉ को तलब करने के बाद घोषित किए गए जवाबी कदमों के तहत यह भी कहा कि वह अपने देश में ब्रिटिश काउंसिल की गतिविधियों पर भी रोक लगाएगा. जैसे को तैसा वाले रूस के इस कदम को ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने धता बताया. गौरतलब है कि पिछले दिनों ब्रिटेन ने भी 23 रूसी राजनयिकों को निष्कासित कर दिया था और उच्च-स्तरीय संपर्क निलंबित कर दिए थे.

ट्रंप ने एक और अफसर को रिटायर होने से 2 दिन पहले किया बर्खास्त

पूर्व जासूस सर्गेई स्क्रीपल और उनकी बेटी यूलिया को चार मार्च सैल्सबरी में जहर देने के मुद्दे पर बढ़ते तनाव के बीच टेरीजा मे ने चेतावनी दी कि वह रूसी सरकार से ब्रिटिश सरजमीं पर ब्रिटिश नागरिकों और अन्य की जिंदगी पर खतरे को बर्दाश्त नहीं करेंगी. उनके इस बयान की उनकी पार्टी के सदस्यों ने काफी तारीफ की.

You may also like

सेना के इशारे पर काम करती है पाकिस्‍तान सरकार : पूर्व PM अब्‍बासी

इस्‍लामाबाद : पाकिस्‍तान से पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्‍बासी ने वहां की